विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Feb 06, 2023

ख़ास लोगों की सुरक्षा के बजट में इजाफा, पीएम मोदी और राहुल गांधी जैसे VIP की सुरक्षा पर होता है इतना खर्च

एक अधिकारी ने कहा, “प्रधानमंत्री हेड ऑफ स्टेट हैं और उन्हें हर तरह का खतरा भी है. ऐसे में 1.18 करोड़ रुपए हर रोज उनकी सुरक्षा से जुड़े मुद्दों के लिए खर्च होता है.” 

Read Time: 4 mins
ख़ास लोगों की सुरक्षा के बजट में इजाफा, पीएम मोदी और राहुल गांधी जैसे VIP की सुरक्षा पर होता है इतना खर्च
इस बजट में एसपीजी का बजट भी बढ़ाया गया है. (प्रतीकात्‍मक)
नई दिल्‍ली:

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने इस बार के बजट में ख़ास लोगों का काफी ध्‍यान रखा है. यह वीआईपी सुरक्षा के बजट में दिखाई दे रहा है. हर महकमा जो इस तरह की यूनिट से जुड़ा है, उसके बजट में इजाफा किया गया है. वित्त वर्ष 2023-24 को लेकर नजर डालें तो पता चलता है कि वीआईपी सुरक्षा से जुड़ी एजेंसियों में सबसे ज्‍यादा बजट में इजाफा प्रधानमंत्री की सुरक्षा से जुड़ी एसपीजी का हुआ है. इसके बाद में सीआरपीएफ का नंबर आता है, जो कई अहम लोगों को जेड प्लस और जेड केटेगरी की सुरक्षा देती है. जेड प्लस सुरक्षा में करीब पचास और जेड सुरक्षा में करीब चालीस जवान वीआईपी की सुरक्षा के लिए हमेशा तैनात रहते हैं. 

कांग्रेस नेता राहुल गांधी को जेड प्लस केटेगरी की सुरक्षा मिली है. उनकी सुरक्षा पर सरकार करीब डेढ़ लाख रुपए रोजाना खर्च कर रही है, यानी महीने में करीब 50 लाख रुपये. हालांकि राहुल गांधी अकेले नेता नहीं हैं, जिन पर इतना खर्च हो रहा है. सीआरपीएफ कुल मिलाकर 129 लोगों को अलग अलग केटेगरी की सुरक्षा मुहैया करवाती है. सबसे ज्‍यादा जेड और जेड प्लस केटेगरी की सुरक्षा ये ही बल अहम लोगों को देता है. 

केंद्रीय गृह मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, फिलहाल सीआरपीएफ 21 लोगों को जेड प्लस श्रेणी की और 26 लोगों को जेड केटेगरी की सुरक्षा देती है. एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने एनडीटीवी इंडिया को बताया, “सीआरपीएफ की फिलहाल 6 बटालियन वीआईपी सुरक्षा से जुड़ी है. यानी करीब 6000 जवान और इनका हर तरह का खर्च वीआईपी सुरक्षा की केटेगरी से आता है.” 

वित्त मंत्रालय ने इस साल सीआरपीएफ का इस सत्र में 31,772 करोड़ रुपये का बजट पारित किया है. अगर अधिकारियों की मानें तो इसमें से 774 करोड़ से ज्‍यादा वीआईपी सुरक्षा के लिए दिया गया है. 

केंद्रीय गृह मंत्रालय के मुताबिक़ सीआरपीएफ के बाद जिसके पास सबसे ज्‍यादा जेड श्रेणी के लोगों की सुरक्षा है वो है,  सीआईएसएफ. 

मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, फिलहाल सीआईएसएफ 144 लोगों को सुरक्षा देती है, जिसमें 9 लोग जेड प्लस श्रेणी के हैं और 11 लोग जेड श्रेणी के हैं. इसके बाद आईटीबीपी, एसएसबी और एनएसजी करीब 70 लोगों को जेड प्लस और जेड श्रेणी की सुरक्षा देती है. एक अधिकारी ने बताया, “औसतन जेड प्लस पर 50 लाख और जेड पर 40 लाख रुपये महीने का खर्च आता है.” 

इस साल के बजट में एसपीजी को 433 करोड़ रुपए स्‍वीकृत हुए हैं. पिछले साल एसपीजी का बजट 411 करोड़ था. यहां यह बताना भी अहम है की एसपीजी अब सिर्फ प्रधानमंत्री को ही सुरक्षा प्रधान करती है यानी प्रधानमंत्री को सुरक्षा देने पर सरकार 36 करोड़ रुपए महीना खर्च करती है. एक अधिकारी ने कहा, “प्रधानमंत्री हेड ऑफ स्टेट हैं और उन्हें हर तरह का खतरा भी है. ऐसे में 1.18 करोड़ रुपए हर रोज उनकी सुरक्षा से जुड़े मुद्दों के लिए खर्च होता है.” 

ये भी पढ़ें :

* "बजट 2023 में 'मनरेगा' के लिए कम आवंटन की ये है खास वजह...",NDTV से बोले मुख्य आर्थिक सलाहाकार
* बजट सत्र : विपक्ष के हंगामे के कारण लोकसभा, राज्‍यसभा की कार्यवाही मंगलवार दोपहर 11 बजे तक के लिए स्‍थगित
* Explained : भारत में प्रत्येक रुपया कहां से आता है और कहां जाता है, ऐसे समझिए गणित

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
इंजीनियर ने NTA के ट्रंक से चुराया था NEET-UG का पेपर, CBI ने पटना से किया गिरफ्तार- सूत्र
ख़ास लोगों की सुरक्षा के बजट में इजाफा, पीएम मोदी और राहुल गांधी जैसे VIP की सुरक्षा पर होता है इतना खर्च
जयपुर एयरपोर्ट पर CISF के ASI को स्पाइसजेट की कर्मचारी ने जड़ा थप्पड़, छेड़छाड़ का लगाया आरोप
Next Article
जयपुर एयरपोर्ट पर CISF के ASI को स्पाइसजेट की कर्मचारी ने जड़ा थप्पड़, छेड़छाड़ का लगाया आरोप
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;