राजस्थान कांग्रेस में मुख्यमंत्री पद के संकट के बीच BJP नेताओं ने ऐसे उड़ाया मजाक

कांग्रेस के 90 से अधिक विधायक अध्यक्ष से मिल रहे हैं, उनका दावा है कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के लिए सबसे आगे चल रहे अशोक गहलोत अगर मुख्यमंत्री नहीं बने रहते हैं तो वे इस्तीफा दे देंगे.

राजस्थान कांग्रेस में मुख्यमंत्री पद के संकट के बीच BJP नेताओं ने ऐसे उड़ाया मजाक

नई दिल्ली:

मुख्यमंत्री के सवाल को लेकर राजस्थान कांग्रेस में चल रहे संकट से बीजेपी खेमे में काफी खुशी है. नेताओं ने सोशल मीडिया पर ट्वीट करना शुरू कर दिया है. भाजपा लगातार कांग्रेस के कन्याकुमारी से कश्मीर तक 'भारत जोड़ो' पैदल मार्च का मज़ाक उड़ाती रही है, यह कहते हुए कि कांग्रेस को नेताओं को पार्टी में शामिल रखने और उन्हें एकजुट रखने पर ध्यान देना चाहिए, क्योंकि उसके कई वरिष्ठ नेता पार्टी छोड़कर जा रहे हैं.

गहलोत के वफादार विधायकों को रिसॉर्ट में ले जाने की अटकलों के बीच, भाजपा के केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव ने गहलोत और पायलट की राहुल गांधी के साथ एक पुरानी तस्वीर ट्वीट की. इसको राहुल गांधी ने चार साल पहले ट्वीट किया था, जिस दिन उन्होंने मुख्यमंत्री पद के दावेदार सचिन पायलट को गहलोत के डिप्टी की भूमिका निभाने के लिए राजी किया था. राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की "भारत जोड़ो यात्रा" पर कटाक्ष करते हुए भूपेंद्र यादव ने लिखा, "कृपया पहले इन्हें जोड़ लो"

एक अन्य केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने ट्वीट किया, "बाड़ेबंदी की सरकार.. एक बार फिर बाड़े में जाने को तैयार!!"

कांग्रेस के 90 से अधिक विधायक अध्यक्ष से मिल रहे हैं, उनका दावा है कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के लिए सबसे आगे चल रहे अशोक गहलोत अगर मुख्यमंत्री नहीं बने रहते हैं तो वे इस्तीफा दे देंगे. इससे पहले उनकी मांग थी कि केंद्रीय नेताओं की पसंद के अनुसार सचिन पायलट के बजाय गहलोत के वफादार को शीर्ष पद पर रखा जाए.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
       

गहलोत की दोहरी भूमिका की संभावना को इस सप्ताह की शुरुआत में राहुल गांधी ने खत्म कर दिया था. राहुल गांधी ने 'एक आदमी एक पद के नियम' पर जोर दिया था.