विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Apr 06, 2021

छत्‍तीसगढ़ एनकाउंटर: सिख जवान ने ग्रेनेड से घायल SI के पैर में बांधी पगड़ी, दोनों अस्‍पताल में हैं भर्ती

सुकमा और बीजापुर जिलों की सीमा पर 400 माओवादियों ने "यू-आकार" में सुरक्षाबलों को घेर लिया था. बलराज सिंह के पेट के पास गोली लगी है,

Read Time: 3 mins
छत्‍तीसगढ़ एनकाउंटर: सिख जवान ने ग्रेनेड से घायल SI के पैर में बांधी पगड़ी, दोनों अस्‍पताल में हैं भर्ती
बलराज सिंह के पेट के पास गोली लगी है
रायपुर:

छत्‍तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में चारों तरफ से गोलियां चल रही थीं, साथी घायल था. ऐसे में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के सिख जवान ने अपनी पगड़ी उतारी और घाव पर बांधा तभी एक गोली ने उसे घायल कर दिया. 
सीआरपीएफ के कमांडो बटालियन फॉर रेसोल्यूट एक्शन (CoBRA) के बलराज सिंह के आगे सब इंस्पेक्टर अभिषेक पांडे थे, उनके पैर में ग्रेनेड के छर्रे लगे और खून बहने लगा. जिसे रोकने के लिए बलराज ने अपनी पग खोल दी. फिलहाल दोनों रायपुर के अस्पताल में भर्ती हैं और खतरे से बाहर हैं.

छत्तीसगढ़ नक्सली हमला : लापता कोबरा कमांडो की 5 साल की बेटी की अपील- 'प्लीज, मेरे पापा को छोड़ दो'

सुकमा और बीजापुर जिलों की सीमा पर 400 माओवादियों ने "यू-आकार" में सुरक्षाबलों को घेर लिया था. बलराज सिंह, जिनके पेट के पास गोली लगी है, ने बताया, " फर्स्ट ऐड करने वाले मास्टर एसटीएफ के जवानों की पट्टी कर रहे थे, उस वक्त हमारे SI साहब (अभिषेक पांडे) के पास एक ग्रेनेड फटा जिसके छर्रों से वे घायल हो गए. काफी खून बह रहा था मैंने अपनी पगड़ी उतार ली और उसे उनके घाव के चारों ओर बांध दिया. मुठभेड़ लगभग पांच घंटे तक चली, उन्होंने यूबीजीएल, मोर्टार का इस्तेमाल किया गयाकई नक्सली भी मारे गए." उन्‍होंने कहा, “मुझे लगता है कि 20 से अधिक नक्सलियों की मौत हुई है, जब हमने बाक्स बनाकर उन पर हमला किया जिससे हम घायल जवानों को निकाल सकें तो वो पीछे हटने लगे."

छत्तीसगढ़ नक्सली हमला : कौन हैं 22 जवानों की जान लेने वाले नक्सली कमांडर हिडमा और सुजाता

CRPF के दूसरे कमांडर संदीप द्विवेदी भी रायपुर के अस्पताल में भर्ती हैं उन्होंने बताया कि “हम माओवादियों की मौजूदगी की जानकारी के बाद रात में ऑपरेशन के लिए निकले थे. हम सुबह जल्दी पहुंच गए. जब हम लौट रहे थेतो मुठभेड़ शुरू हो गई. नक्सलियों को सुरक्षा बलों की आवाजाही की जानकारी थी. हमारे लड़कों ने बहादुरी से लड़ाई लड़ी लेकिन हमें नुकसान उठाना पड़ा. उन्हें भी भारी नुकसान हुआ. उनकी सिविलियन टीम हमें ट्रेस कर रही थी.इस हमले में सीआरपीएफ कोबरा बटालियन के सात कमांडो और बस्तरिया बटालियन के एक जवान सहित आठ सैनिकों को खो दिया. जिला रिजर्व गार्ड (DRG) के आठ कर्मी और स्पेशल टास्क फोर्स (STF) के छह जवान भी ड्यूटी के दौरान मारे गए.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;