विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Dec 30, 2022

गाजियाबाद में मिला ब्‍लैक और व्‍हाइट फंगस का केस, बेहद महंगा है इलाज 

डॉक्टर का कहना है कि जिस मरीज को भी ब्लैक और वाइट फंगस मिलता है, उसका इलाज बेहद महंगा हो जाता है. उनके मुताबिक इन दोनों बीमारियों में जो दो इंजेक्शन लगते हैं उनकी एक दिन की कीमत 60 हजार रुपए है और दोनों इंजेक्शन 21 दिन कम से लगते हैं.

गाजियाबाद में मिला ब्‍लैक और व्‍हाइट फंगस का केस, बेहद महंगा है इलाज 
गाजियाबाद की महिला में ब्‍लैक और व्‍हाइट दोनों फंगस मिले हैं. (प्रतीकात्‍मक)
नई दिल्ली:

गाजियाबाद (Ghaziabad) की एक 55 वर्षीय महिला में ब्लैक और व्‍हाइट दोनों फंगस मिले हैं. महिला डायबिटीज से पीड़ित है और बुखार आने के बाद डॉक्टर के पास गई थी. इसी दौरान उन्‍हें साइनस की बीमारी का भी पता चला. साइनस के इलाज के दौरान डॉक्टर ने साइनस के सैंपल लिए और उन्‍हें गौतमबुद्ध नगर की प्राइवेट पैथोलॉजी लैब में भेजा तो वहां दोनों फंगस की पुष्टि हुई है. इस बारे में डॉक्टरों का कहना है कि इसका इलाज बेहद महंगा है. इन दोनों बीमारियों में एक दिन में ही 60 हजार रुपए तक के तो इंजेक्शन लगते हैं. इन्‍हें 21 दिन तक लगवाना होता है और अस्पताल का खर्चा अलग होता है. 

गौतमबुद्ध नगर के पैथोलॉजी लैब की रिपोर्ट में 'पॉजिटिव फॉर फंगस' लिखा है यानी यह जिस 55 वर्षीय महिला की रिपोर्ट है, उसे ब्लैक और व्‍हाइट दोनों फंगस डिटेक्ट हुए हैं. 

महिला का इलाज कर रहे ENT डॉक्टर बीपीएस त्यागी का कहना है कि महिला को बुखार की हिस्ट्री थी और यह इनके पास आई थी. इस महिला ने कोविड का टेस्ट नहीं करवाया था. साथ ही जब यह महिला इनके पास आए तो उन्‍हें साइनस की बीमारी भी दिखाई दी, यह नाक की बीमारी होती है. 

डॉक्टर त्यागी का कहना है कि उसके बाद इन स्लाइड में दिख रहे ऐसे सैंपल उन्होंने पैथोलॉजी लैब में जांच के लिए भेजे. पैथोलॉजी लैब में यह सैंपल 24 दिसंबर को भेजे गए थे और 27 दिसंबर को रिपोर्ट आई कि इस महिला को ब्लैक और व्‍हाइट दोनों फंगस मिले हैं. 

डॉक्टर के मुताबिक नंगी आंख से इन फंगस का पता करना नामुमकिन है. इसके लिए नाक की एंडोस्कोपी की जाती है, जिसके बाद इसका पता चलता है. शक होने पर सैंपल पैथोलॉजी लैब भेजा जाता है, जिसकी रिपोर्ट के बाद पता चल पाता है कि मरीज को क्या बीमारी है. 

वही डॉक्टर का कहना है कि जिस मरीज को भी ब्लैक और वाइट फंगस मिलता है, उसका इलाज बेहद महंगा हो जाता है. उनके मुताबिक इन दोनों बीमारियों में जो दो इंजेक्शन लगते हैं उनकी एक दिन की कीमत 60 हजार रुपए है और दोनों इंजेक्शन 21 दिन कम से लगते हैं. इसके अलावा अस्पताल का खर्चा अलग होता है. इस बारे में डॉक्टर ने सरकार से गुजारिश की है कि इन दोनों बीमारी के इंजेक्शन से गरीब लोगों को छूट दी जाए।. 

डॉक्टर का यह भी कहना है कि अगर शुरुआती में इन दोनों का पता चल जाए तो मरीज की जान बच सकती है अन्यथा यह बेहद खतरनाक हो सकते हैं. 

ये भी पढ़ें :

* हाइवे पर लूट के दौरान एक्ट्रेस पत्नी की हत्या के मामले में फिल्म निर्माता गिरफ्तार
* राजस्थान में कोर्ट परिसर के बाहर हत्या करने वाले सरगना सहित पांच गिरफ्तार
* गाजियाबाद में 2 मौतें: ओयो रूम में प्रेमिका की गला दबाकर हत्या, दूसरी महिला की फ्लैट में मिली लाश

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
बांग्लादेश में भारतीयों की सुरक्षा पर ध्यान केंद्रित किये हुए है विदेश मंत्रालय: विदेश मंत्री जयशंकर
गाजियाबाद में मिला ब्‍लैक और व्‍हाइट फंगस का केस, बेहद महंगा है इलाज 
कलेक्टर के खिलाफ उत्पीड़न की शिकायत के मामले में ट्रेनी IAS पूजा खेडकर को पुलिस का नोटिस
Next Article
कलेक्टर के खिलाफ उत्पीड़न की शिकायत के मामले में ट्रेनी IAS पूजा खेडकर को पुलिस का नोटिस
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;