उत्‍तराखंड के सीएम ने बीजेपी के शीर्ष नेतृत्‍व को दी अंकिता मर्डर मामले की जानकारी

अंकिता का शव उत्तराखंड SDRF ने 24 सितंबर को ऋषिकेश की चीला नहर से बरामद किया था. SDRF के प्रवक्ता ने अंकिता भंडारी के शव को चीला नहर से बरामद किए जाने की पुष्टि की थी.

उत्‍तराखंड के सीएम ने बीजेपी के शीर्ष नेतृत्‍व को दी अंकिता मर्डर मामले की जानकारी

19 साल की अंकिता की हत्‍या से जुड़ी घटना ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है

नई दिल्‍ली :

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के शीर्ष नेतृत्‍व को बुधवार को आज पार्टी की उत्तराखंड इकाई ने 19 वर्षीय अंकिता भंडारी की हालिया हत्या के बारे में ब्रीफ किया. 19 साल की अंकिता की घटना ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है. उत्‍तराखंड के सीएम पुष्‍कर सिंह धामी ने नई दिल्‍ली स्थित पार्टी मुख्‍यालय पर बीजेपी महासचिव बीएल संतोष के साथ अंकिता मामले से जुड़ी जानकारी साझा की. इससे पहले, उत्‍तराखंड सरकार ने पीड़‍िता के परिजनों के लिए 25 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान किया है. बीजेपी नेतृत्व को ऋषिकेश के पास रिसॉर्ट की उस इमारत को बुलडोजर से गिराने की कोशिशों के बारे में भी ब्रीफ किया गया,  जहां अंकिता रिसेप्शनिस्ट के तौर पर काम करती थी. अंकिता के परिजनों और प्रदर्शनकारियों ने शुरू में उसके शव का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया था. उन्‍होंने रिसॉर्ट की बिल्डिंग को गिराने का जिक्र करते हुए इसे सबूतों को नष्ट करने का प्रयास करार दिया था. 

अंकिता की कथित तौर पर रिसॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य और उसके दो साथियों, रिसॉर्ट मैनेजर सौरभ भास्कर और सहायक प्रबंधक अंकित गुप्ता ने हत्या कर दी थी. इन तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलकित, बीजेपी के पूर्व मंत्री विनोद आर्य के बेटे हैं, जिन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है. मामले की उत्‍तराखंड पुलिस की स्‍पेशल इनवेस्‍टीगेशन टीम (SIT) जांच कर रही है. 

बता दें कि अंकिता का शव उत्तराखंड SDRF ने 24 सितंबर को ऋषिकेश की चीला नहर से बरामद किया था. SDRF के प्रवक्ता ने अंकिता भंडारी के शव को चीला नहर से बरामद किए जाने की पुष्टि की थी. मामले की जांच के लिए सीएम ने एसआईटी गठित की थी. वहीं शुक्रवार 23 सितंबर की रात में प्रशासन ने आरोपी पुलकित के रिसॉर्ट पर बुल्डोजर चला दिया था. शनिवार को अंकिता का शव मिलने के बाद उत्तराखंड में प्रदर्शन शुरू हो गये थे. अंकिता की हत्या मामले में फाइनल पोस्टमार्टम रिपोर्ट में डूबने से अंकिता की मौत की पुष्टि हुई थी. साथ ही शरीर पर 4 से 5 चोट के निशान भी मिले थे. अंकिता के परिवार वालों को पोस्टमार्टम रिपोर्ट दिखाई गयी थी. इधर उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा था कि फास्ट ट्रैक कोर्ट में केस चले,  इसके लिए न्यायालय से अनुरोध करेंगे. इससे गुनाहगारों को तत्काल सजा मिलेगी. सीएम ने कहा था कि अंकिता के साथ जघन्य अपराध हुआ है. कोई भी अपराधी बच नहीं सकता है.

* DA में हुई 4 फीसदी की बढ़ोतरी, जानें - किसको कितना मिलेगा फायदा
* दिल्ली आबकारी नीति: गिरफ्तार कारोबारी विजय नायर को CBI कोर्ट में किया गया पेश

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

       

क्राइम रिपोर्ट इंडिया : अंकिता मर्डर केस के तीनों आरोपियों की तस्वीरें आई सामने