विधायकों की ग्रुप फोटो में तीसरी लाइन में बैठे थे भजनलाल शर्मा, कुछ मिनट बाद BJP ने दे दी राजस्थान की कमान

भजनलाल शर्मा राजस्थान चुनाव में सांगानेर सीट से मैदान में थे. बीजेपी ने मौजूदा विधायक अशोक लाहोटी का टिकट काटकर उन्हें प्रत्याशी बनाया था. शर्मा ने चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार पुष्पेंद्र भारद्वाज को 48081 वोटों से हराया.

विधायकों की ग्रुप फोटो में तीसरी लाइन में बैठे थे भजनलाल शर्मा, कुछ मिनट बाद BJP ने दे दी राजस्थान की कमान

भजनलाल शर्मा राजस्थान की सांगानेर सीट से पहली बार विधायक चुने गए हैं.

खास बातें

  • वसुंधरा राजे ने रखा भजनलाल के नाम का प्रस्ताव
  • RSS बैकग्राउंड से आते हैं भजनलाल शर्मा
  • बीजेपी ने जयपुर को ही दिए 3 बड़े पद
नई दिल्ली/जयपुर:

हिंदी हार्टलैंड के तीनों राज्यों मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में मुख्यमंत्रियों के सिलेक्शन को लेकर बीजेपी ने चौंकाया है. तमाम दिग्गज नेताओं और अनुभवी पूर्व मुख्यमंत्रियों को दरकिनार करते हुए बीजेपी (BJP) ने तीनों राज्यों में ऐसे लोगों को सीएम बनाया है, जिनका नाम सीएम की रेस में दूर-दूर तक कहीं भी नहीं था. जो सीएम बनाए गए हैं, उन्हें खुद सीएम बनने की उम्मीद ही नहीं थी. मंगलवार को बीजेपी ने राजस्थान के मुख्यमंत्री (Rajasthan New CM) के नाम का ऐलान किया. भजनलाल शर्मा (Bhajanlal Sharma ) राज्य के नए सीएम होंगे.

हैरानी की बात ये है कि भजनलाल पहली बार विधायक चुने गए हैं. उन्हें विधायक या मंत्री होने का कोई अनुभव नहीं है. लेकिन अब वो सीएम की कुर्सी पर बैठेंगे. इतना ही नहीं, बीजेपी विधायक दल की बैठक से ठीक पहले ग्रुप फोटो सेशन में भी भजनलाल शर्मा तीसरी लाइन में एकदम किनारे बैठे हुए थे. फोटो सेशन के कुछ मिनट बाद ही उन्हें बीजेपी विधायक दल का नेता चुना गया. फिर उन्हें नया सीएम बनाने का ऐलान हो गया.

भजनलाल शर्मा राजस्थान चुनाव में सांगानेर सीट से मैदान में थे. बीजेपी ने मौजूदा विधायक अशोक लाहोटी का टिकट काटकर उन्हें प्रत्याशी बनाया था. शर्मा ने चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार पुष्पेंद्र भारद्वाज को 48081 वोटों से हराया.

जयपुर में रहते हैं भजनलाल शर्मा 
भजनलाल शर्मा सांगानेर सीट से विधायक हैं, लेकिन वह इस क्षेत्र से नहीं हैं. वह मूलरूप से भरतपुर से आते हैं, लेकिन जयपुर में रहते हैं. 2008 और 2013 में बीजेपी ने इस सीट पर कब्जा किया था. सांगानेर सीट बीजेपी का गढ़ मानी जाती है.

13 सालों से प्रदेश महामंत्री के पद पर रहे
भजनलाल शर्मा पार्टी संगठन में लंबे समय से काम कर रहे हैं. वो लंबे समय तक बीजेपी के प्रदेश महामंत्री रहे हैं. वह लगातार 13 सालों से प्रदेश महामंत्री के पद पर रहे. सबसे बड़ी बात यह है इन 13 साल में तीन बार अध्यक्ष बदल गए, लेकिन उन्हें नहीं बदल गया. शर्मा ने अपना राजनीतिक करियर बीजेपी की छात्र शाखा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) से शुरू की. वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) से जुड़े हैं और RSS की फेवरेट लिस्ट में शुमार किए जाते हैं.

भजनलाल शर्मा ने सीएम चुने जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का शुक्रिया अदा किया है. उन्होंने कहा कि सीएम के तौर पर वो सभी के सहयोग से राजस्थान का सर्वांगीण विकास करेंगे.

15 दिसंबर को हो सकता है शपथ ग्रहण
विधायक दल की बैठक के बाद भजनलाल शर्मा समेत सभी बीजेपी नेता राजभवन पहुंचे. उन्होंने राज्यपाल कलराज मिश्र से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया. राज्यपाल ने बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता दिया. 5 दिसंबर को भजनलाल शर्मा का जन्मदिन है. ऐसे में माना जा रहा है कि 15 दिसंबर को नई सरकार का शपथ ग्रहण हो सकता है. हालांकि, अभी आधिकारिक ऐलान होना बाकी है.


ये भी पढ़ें:-

MP News: दिल्ली जाने के सवाल पर शिवराज सिंह बोले- 'कुछ मांगने के बजाय मैं मरना बेहतर समझूंगा

छत्तीसगढ़ के नए CM और डिप्टी सीएम के साथ ये नेता भी ले सकते हैं शपथ, ये विधायक हैं मंत्री पद की रेस में? जानें वजह...

Explainer: हिंदी हार्टलैंड में 'सरप्राइज' की हैट्रिक के पीछे क्या है BJP का गेम प्लान

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

कौन हैं भजनलाल शर्मा, जिन्हें चुना गया राजस्थान का नया मुख्यमंत्री