विज्ञापन
Story ProgressBack

'ये रिश्ता क्या कहलाता है?' कन्नड़ के सुपरस्टार्स दर्शन-पवित्रा ने इस लाइन का फैन से लिया खूनी बदला?

बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर बी दयानन्द से दो सवाल पूछे गए थे. पहला क्या रेणुकास्वामी के साथ मारपीट के दौरान उसे बिजली के झटके दिए गए, दूसरा क्या रेणुकास्वामी के साथ जानलेवा मारपीट के वक्त पवित्रा गौड़ा वहां मौजूद थी. इन दोनों सवालों के बारे में बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर बी दयानंद का जवाब था, "No Comments."

'ये रिश्ता क्या कहलाता है?' कन्नड़ के सुपरस्टार्स दर्शन-पवित्रा ने इस लाइन का फैन से लिया खूनी बदला?
कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री के स्टार दर्शन और पवित्रा ने फैन से लिया इस बात का बदला...

कन्नड़ अभिनेता दर्शन और उसके 17 साथियों को बेंगलुरु के बहुचर्चित रेणुकास्वामी की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है, लेकिन इस मर्डर को लेकर रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं. मृतक रेणुकस्वामी से पवित्रा गौड़ा की नफरत की वजह भी सामने आ चुकी है. अब जो ताजा जानकारी सामने आ रही है उसके मुताबिक- जब दर्शन और उसके साथी रेणुकास्वामी की पिटाई कर रहे थे तब पवित्रा गौड़ा वहां मौजूद थी. पवित्रा के उकसावे पर ही रेणुकास्वामी का अपहरण दर्शन ने अपनी फैन एसोसिएशन के लोगों से करवाया था. जब 8 जून की रात और 9 जून तड़के एक शेड में दर्शन और उसके दूसरे सहयोगी जब रेणुकास्वामी की बेल्ट, डंडे, घूंसे और लातों से पिटाई कर रहे थे तब ये सब कुछ पवित्रा की मौजूदगी में हो रहा था, जितनी नफरत पवित्रा गौड़ा रेणुकास्वामी से करती थी उसे देखते हुए इतना जरूर कहा जा सकता है कि उसने भी रेणुकास्वामी की पिटाई की होगी.


बिजली के झटकों पर पुलिस का जवाब

बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर बी दयानंद से तीन सवाल पूछे गए. पहला क्या रेणुकास्वामी के साथ मारपीट के दौरान उसे बिजली के झटके दिए गए, दूसरा क्या रेणुकास्वामी के साथ जानलेवा मारपीट के वक्त पवित्रा गौड़ा वहां मौजूद थी. इन दोनों सवालों के बारे में बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर बी दयानंद का जवाब था ,"No Comments." साथ में ये भी कि जांच से जुड़ी जानकारी पर वो बात नहीं करना चाहते हालांकि जब ये पूछा गया कि क्या रेणुकास्वामी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के साथ छेड़छाड़ के लिए दर्शन की तरफ से डॉक्टर को बड़ी रकम देने की पेशकश की गई थी. पुलिस कमिश्नर बी दयानंद ने इस सवाल के जवाब में कहा कि मीडिया की हवाबाजी का वो जवाब नहीं देना चाहते.

रेणुकास्वामी जिसे पूजता था उसी की बर्बरता का शिकार हो गया

एक बात तो साफ हो गई कि रेणुकास्वामी के साथ दर्शन, पवित्रा और उसके साथियों ने बर्बरता की सीमाएं लांघ दी थीं. रेणुकास्वामी के शरीर पर पाए गए जख्म के 15 गहरे घाव इस बात के सबूत हैं. बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर ने रेणुकास्वामी को बिजली के झटके देने की खबर की पुष्टि नहीं की, लेकिन इनकार भी नहीं किया, जो जख्म रेणुकास्वामी के लिए जानलेवा साबित हुआ उसके लिए दर्शन को जिम्मेदार माना जा रहा है. जानकारी के मुताबिक - 8 जून को दर्शन अपने एक दोस्त के पब में एक और कलाकार के साथ रात में मदिरापान कर रहा था यानी रेणुकास्वामी के साथ मारपीट के वक्त दर्शन पूरी तरह नशे में था, इससे इंकार नहीं किया जा सकता.

रेणुकास्वामी से दर्शन क्यों नाराज था

दर्शन और पवित्रा की नाराजगी रेणुकास्वामी से इस साल की शुरुआत में और बढ़ी. दरअसल, 24 जनवरी 2024 यानी इसी साल पवित्रा ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट डाला. इसमें पवित्रा दर्शन के साथ दिखती है. पवित्रा ने लिखा कि ," हमारे रिश्ते को 10 साल हो गए, अभी और आगे जाना है-धन्यवाद." इस पर दर्शन की पत्नी विजयलक्ष्मी ने लिखा कि, "मुझे उम्मीद है कि किसी और के पति की तस्वीर पोस्ट करने से पहले इस महिला को होश में आना चाहिए. यह उसके चरित्र और नैतिक स्थिति के बारे में बताता है, यह जानते हुए कि वह आदमी शादीशुदा है, वह अभी भी अपनी निजी जरूरतों और एजेंडे के लिए आने और रहने का विकल्प चुनती है."

दक्षिण में फैन अपने हीरो को भगवान की तरह  पूजते हैं. रेणुकास्वामी के लिए दर्शन भगवान से कम नहीं थे. ऐसे में दर्शन और उसकी पत्नी विजयलक्ष्मी की जिंदगी से पवित्रा को हटाने के मकसद से रेणुकास्वामी ने सोशल मीडिया का सहारा लिया और पवित्रा से अभद्र भाषा में पूछने लगा कि "दर्शन अन्ना" से उसका रिश्ता क्या कहलाता है. क्यों वो दर्शन के साथ रहती है. रेणुकास्वामी के सोशल मीडिया कैंपेन से पवित्रा से सवाल पूछने वालों की संख्या बढ़ी. इससे दर्शन और अपवित्र असहज महसूस करने लगे. दोनों ने रेणुकास्वामी को समझाने की कोशिश की, लेकिन वो नहीं माना.

रेणुकास्वामी का अपहरण

दर्शन फैन क्लब के कर्ताधर्ता राघवेंद्र उर्फ़ रघु ने रेणुकास्वामी को बताया कि दर्शन उससे मिलना चाहता है. ऐसे में रेणुकीस्वामी दर्शन के साथ गाड़ी में बैठ गया. रेणुकास्वामी की पत्नी सहाना का भी यही कहना था कि रेणुकस्वामी को राघवेंद्र अपने साथ ले गया था. चित्रदुर्ग से रेणुकास्वामी को 8 जून को सीधे बेंगलुरु के कामाक्षीपाल्या के एक शेड में ले जाया गया, जो दर्शन के दोस्त का है. वहीं रेणुकस्वामी की पिटाई हुई जिसमें दर्शन और उसके दोस्तों ने इतना मारा कि वो अधमरा हो गया. तब बताया जा रहा है कि वहां खड़ी गुड्स ट्रिपर पर दर्शन ने रेणुकास्वामी को पटक दिया, जो उसकी मौत की वजह बनी. रेणुकास्वामी की मौत के बाद उसकी लाश बेंगलुरु के कामाक्षीपाल्या के एक नाले में फेंक दी गई. बताया जा रहा है कि रेणुकास्वामी की हत्या 9 जून सुबह 3 बजे के आसपास हुई. इसके बाद ही दर्शन लाल रंग की SUV में घटनास्थल से जाता हुआ नजर आता है. रेणुकास्वामी के शरीर पर जख्म के 15 घाव पाए गए, जिसमें पीठ और सिर के पिछले हिस्से में गहरी चोट थी, जो जानलेवा साबित हुई.

सबूत मिटाने की कोशिश

रेणुकास्वामी की लाश को कुत्ते खा रहे थे. पुलिस ने लाश को कब्जे लेकर जांच शुरू की. तभी तीन लोगों ने हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए पुलिस स्टेशन में आत्मसमर्पण किया. पुलिस को शक हुआ तो सख्ती से पूछताछ की गई तो दर्शन और पवित्रा का षड्यंत्र सामने आया. ये भी पता चला की तीनों आरोपियों को 5-5 लाख रुपये दर्शन ने जुर्म कबूल करने के लिए दिए थे. फिलहाल दर्शन, पवित्रा के साथ-साथ 15 अन्य फिलहाल पुलिस कस्टडी में हैं. उनसे लगातार पूछताछ चल रही है.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
कांवड़ यात्रा शुरू होने से पहले नेमप्‍लेट विवाद में अब रामदेव की एंट्री, जानें क्‍या कहा?
'ये रिश्ता क्या कहलाता है?' कन्नड़ के सुपरस्टार्स दर्शन-पवित्रा ने इस लाइन का फैन से लिया खूनी बदला?
हैदराबाद में लावारिस कुत्तों के काटने से बच्चे की मौत
Next Article
हैदराबाद में लावारिस कुत्तों के काटने से बच्चे की मौत
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;