विज्ञापन
Story ProgressBack

जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों के मददगारों के खिलाफ दुश्मन एजेंट एक्ट में की जाएगी कार्रवाई

पिछले दो हफ्तों में जम्मू-कश्मीर में हुई आतंकी घटनाओं के मद्देनजर शीर्ष पुलिस अधिकारी का बयान आया.

Read Time: 3 mins
जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों के मददगारों के खिलाफ दुश्मन एजेंट एक्ट में की जाएगी कार्रवाई
प्रतीकात्मक तस्वीर
श्रीनगर:

जम्मू-कश्मीर के (Jammu and Kashmir) पुलिस महानिदेशक आरआर स्वैन ने रविवार को कहा कि विदेशी आतंकवादियों का समर्थन करने वाले स्थानीय लोगों के खिलाफ शत्रु एजेंट अधिनियम (Enemy Agents Act) के तहत कार्रवाई की जाएगी. शीर्ष पुलिस अधिकारी का यह बयान पिछले दो हफ्तों में जम्मू-कश्मीर में हुई कई आतंकी घटनाओं के मद्देनजर आया है.

जम्मू कश्मीर के रियासी, डोडा और कठुआ जिलों में 9 से 12 जून के बीच हुई चार आतंकी वारदातों में शिव खोड़ी मंदिर से लौट रहे सात तीर्थयात्रियों और एक सीआरपीएफ जवान समेत दस लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो हुए. कठुआ में हुई एक मुठभेड़ में दो पाकिस्तानी आतंकवादी मारे गए.

आजीवन कारावास या मृत्यु दंड की सजा
एनीमि एजेंट एक्ट, गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम से कहीं अधिक कठोर है. इसमें अभियुक्त के लिए न्यूनतम सजा आजीवन कारावास या मृत्युदंड है. डीजीपी ने कहा कि, "यह एक्ट यूएपीए से भी अधिक कठोर है. अधिनियम में आतंकवादियों के सहयोगी को दुश्मन, जो बाहर से आते हैं, के एजेंट के रूप में कार्य करने का जिक्र किया गया है." 
आरआर स्वैन के अनुसार आतंकवादियों को मुठभेड़ में मार गिराया जाएगा, जबकि उनकी मदद करने वालों के साथ जम्मू-कश्मीर में सबसे कठोर कानून के तहत निपटा जाएगा.

स्वैन ने कहा कि, ''जहां तक ​​लड़ाकों का सवाल है, जो कि किसी भी जांच के दायरे में नहीं आते, वे कार्रवाई में मारे जाएंगे. लेकिन जो लोग उनका समर्थन करते हैं, उन्हें दुश्मन का एजेंट माना जाएगा. हमारे दुश्मन एजेंट अधिनियम में न्यूनतम सजा आजीवन कारावास या मौत है... इस अधिनियम के तहत कोई अन्य सजा नहीं है." 

विशेष अदालतें स्थापित की जाएंगी
शीर्ष पुलिस अधिकारी ने कहा कि, अधिनियम के तहत गिरफ्तार किए गए लोगों के खिलाफ मुकदमा चलाने के लिए विशेष अदालतें स्थापित की जाएंगी. जम्मू क्षेत्र में हुए आतंकी हमलों के बारे में पूछे जाने पर शीर्ष पुलिस अधिकारी ने कहा कि, ''पुलिस ने कठुआ से छह गिरफ्तारियां की हैं और रियासी आतंकी हमले के मामले में एक साजिशकर्ता को गिरफ्तार करके बड़ी सफलता हासिल की है.''

यह भी पढ़ें-

जम्मू-कश्मीर : अब दक्षिणी पीर पंजाल में सक्रिय हुए आतंकी, ठिकाना बदलने की यह है वजह

आतंकियों ने कठुआ के गांव कई घरों से मांगा पानी... लोगों के मना करने पर की फायरिंग; मुठभेड़ में दोनों की मौत

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
शादी में मछली और मांस खाने को नहीं मिला तो दूल्हा मंडप से भागा, जमकर हुई मारपीट; देखें वीडियो
जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों के मददगारों के खिलाफ दुश्मन एजेंट एक्ट में की जाएगी कार्रवाई
हाथरस हादसे में भोले बाबा पर कार्रवाई के बजाय क्लीन चिट, मायावती ने SIT रिपोर्ट पर उठाए सवाल
Next Article
हाथरस हादसे में भोले बाबा पर कार्रवाई के बजाय क्लीन चिट, मायावती ने SIT रिपोर्ट पर उठाए सवाल
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;