उत्तराखंड में आप के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार रहे कर्नल अजय कोठियाल ने पार्टी छोड़ी

साल की शुरूआत में उत्तराखंड विधानसभा  चुनाव (Uttarakhand Assembly polls) में आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार रहे कर्नल अजय कोठियाल (Col. Ajay Kothiyal) ने बुधवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया.

उत्तराखंड में आप के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार रहे कर्नल अजय कोठियाल ने पार्टी छोड़ी

 गंगोत्री सीट से चुनाव मैदान में उतरे कोठियाल की जमानत भी जब्त हो गयी थी.

देहरादून:

साल की शुरूआत में उत्तराखंड विधानसभा  चुनाव (Uttarakhand Assembly polls) में आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार रहे कर्नल अजय कोठियाल (Col. Ajay Kothiyal) ने बुधवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया. कोठियाल ने अपना इस्तीफा आप के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal)  को भेज दिया है. आप ने फरवरी में उत्तराखंड विधानसभा चुनाव कर्नल कोठियाल के चेहरे पर लड़ा था, लेकिन उसे सभी 70 सीटों पर बुरी तरह हार का सामना करना पडा.  गंगोत्री सीट से चुनाव मैदान में उतरे कोठियाल की जमानत भी जब्त हो गयी थी.

चुनाव से पूर्व उत्तराखंड के लोगों के लिए कई निशुल्क योजनाओं का ऐलान करने के बावजूद आप प्रदेश में खाता खोलने में विफल रही. केजरीवाल को लिखे अपने पत्र में कर्नल कोठियाल ने कहा, 'मैं 19 अप्रैल 2021 से लेकर 18 मई 2022 तक आम आदमी पार्टी का सदस्य रहा हूं.  पूर्व सैनिकों, अर्धसैनिक बलों के पूर्व कर्मियों, बुजुर्गों, महिलाओं, युवाओं और बुद्धिजीवियों को ध्यान में रखते हुए मैं 18 मई को अपना इस्तीफा आपको भेज रहा हूं. हाल में कांग्रेस छोड़कर आप में शामिल हुए वरिष्ठ नेता जोत सिंह बिष्ट ने कहा कि कर्नल कोठियाल का पार्टी छोड़ने का निर्णय व्यक्तिगत है. आप की राज्य इकाई के समन्वयक बिष्ट ने कहा, 'वह (कोठियाल) पार्टी के वरिष्ठतम नेताओं में से एक हैं.  त्यागपत्र देने का उनका निर्णय व्यक्तिगत है क्योंकि उन्होंने इसके लिए कोई कारण नहीं बताया है. उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए हमारी शुभकामनाएं उनके साथ हैं. '

बताया जा रहा है कि चुनाव में मिली हार के बाद पार्टी द्वारा अपने साथ किए जा रहे कथित 'व्यवहार' से कर्नल खुश नहीं थे .  उत्तराखंड में पार्टी के प्रदर्शन का विश्लेषण करने के लिए हाल में दिल्ली में हुई बैठक में भी कर्नल कोठियाल को नहीं बुलाया गया था . 

इसे भी पढ़ें : चारधाम में उमड़ा श्रद्धालुओं का सैलाब, भारी भीड़ के बाद दर्शनार्थियों का कोटा तय, जान लें नए नियम

Char Dham Yatra 2022: उत्तराखंड में उमड़ रही भीड़ के मद्देनजर पंजीकरण, यात्रा कार्ड अनिवार्य 

हरिद्वार धर्म संसद मामला : कोर्ट ने आरोपी की जमानत याचिका पर उत्तराखंड सरकार को नोटिस जारी किया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इसे भी देखें : 5 की बात : क्या सरकार पर पकड़ बना पाएंगे पुष्कर सिंह धामी?



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)