'हम विश्वासघात को नहीं भूलेंगे...' : शिवसेना में विद्रोह पर बोले आदित्य ठाकरे

उद्धव ठाकरे कैबिनेट में मंत्री और ठाणे जिले के एक दिग्गज नेता एकनाथ शिंदे ने पार्टी के खिलाफ विद्रोह कर दिया. इस एमवीए सरकार में एनसीपी और कांग्रेस भी शामिल है. शिंदे ने लगभग 40 विधायकों के समर्थन का दावा किया है. जो सभी इस वक्त असम के गुवाहाटी में हैं.

'हम विश्वासघात को नहीं भूलेंगे...' : शिवसेना में विद्रोह पर बोले आदित्य ठाकरे

महाराष्ट्र सरकार में मंत्री आदित्य ठाकरे

मुंबई :

महाराष्ट्र में शिवसेना के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी सरकार, पार्टी नेता एकनाथ शिंदे के विद्रोह के बाद वर्तमान में राजनीतिक उथल-पुथल में फंस गई है. पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए शिवसेना के मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा कि यह सच और झूठ के बीच की लड़ाई है.

आदित्य ठाकरे ने मुंबई में पार्टी कार्यालय से बाहर निकलते हुए कहा, "आप पहले से ही जानते हैं कि बैठक में क्या चर्चा हुई, महत्वपूर्ण बात यह है कि हम शिवसेना के बागी विधायकों द्वारा किए गए विश्वासघात को नहीं भूलेंगे. हम (शिवसेना) निश्चित रूप से जीतेंगे."

उद्धव ठाकरे कैबिनेट में मंत्री और ठाणे जिले के एक दिग्गज नेता एकनाथ शिंदे ने पार्टी के खिलाफ विद्रोह कर दिया. इस एमवीए सरकार में एनसीपी और कांग्रेस भी शामिल है.

शिंदे ने लगभग 40 विधायकों के समर्थन का दावा किया है. जो सभी इस वक्त असम के गुवाहाटी में हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


शिवसेना ने कहा है कि वह शनिवार शाम तक विद्रोहियों के खिलाफ कार्रवाई करेगी, क्योंकि वे "शिवसेना बालासाहेब ठाकरे" नाम की एक पार्टी शुरू करना चाहते हैं.