पश्चिम बंगाल में कोरोना के रिकॉर्ड 17,207 नए मामले सामने आए, 77 ने गंवाई जान

West Bengal 8th Phase Polls :पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में विधानसभा चुनाव कराने को लेकर कई दलों ने चुनाव आयोग को निशाने पर ले रखा है. कोलकाता हाईकोर्ट ने भी इसको लेकर चुनाव आयोग पर गंभीर आक्षेप लगाए थे.

पश्चिम बंगाल में कोरोना के रिकॉर्ड 17,207 नए मामले सामने आए, 77 ने गंवाई जान

Bengal Coronavirus Cases :बंगाल में एक माह में तेजी से बढ़े कोरोना के केस

कोलकाता:

West Bengal Coronavirus Cases Today : पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस के बुधवार को 17,207 नए मामले मिले. यह एक दिन का सबसे बड़ा रिकॉर्ड है. कोरोना के नए मरीजों में यह भयानक बढ़ोतरी ऐसे वक्त हुई है, जब राज्य में 8वें चरण का विधानसभा चुनाव 29 अप्रैल को होना है. बंगाल में चार अन्य राज्यों के विधानसभा चुनावों की तरह 2 मई को मतगणना होगा. दो मई को कई राज्यों के विधानसभा उपचुनाव की सीटों के नतीजे भी आएंगे. 

पश्चिम बंगाल में कोरोना के कुल मामले 7,93,552 हो गए हैं. स्वास्थ्य विभाग के अनुसार,  77 और संक्रमित कोरोना मरीजों की मौत हो गई है. इससे मृतकों की कुल संख्या 11,159 हो गई है. कोलकाता में 22 संक्रमितों की मौत हुई है. इसके बाद उत्तर 24 परगना में 16 और हावड़ा में पांच लोगों की जान गई है.  कोलकाता में 3821 नए मामले आए जबकि उत्तर 24 परगना में 3778 मरीजों में संक्रमण मिला है. बंगाल के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, कोरोना संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 1,05,812 हो गई है जबकि 6,76,581 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं.


पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में विधानसभा चुनाव कराने को लेकर कई दलों ने चुनाव आयोग को निशाने पर ले रखा है. कोलकाता हाईकोर्ट ने भी इसको लेकर चुनाव आयोग पर गंभीर आक्षेप लगाए थे. कड़ी फटकार के बाद चुनाव आय़ोग ने बड़ी रैलियों पर पाबंदी लगाई और आखिरी चरणों के चुनाव में सख्ती की. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


चुनाव आयोग ने बुधवार को एक आदेश जारी किया. इसमें कहा गया है कि कोरोना संकट को देखते हुए उम्मीदवारों को कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट (Negative Covid Report) या दो वैक्सीन खुराक ( two vaccine doses) के बिना मतगणना केंद्रों के अंदर जाने की अनुमति नहीं होगी. चुनाव आयोग ने देश में बड़े पैमाने पर कोविड की वृद्धि के बीच बंगाल, तमिलनाडु, केरल, असम और पुदुचेरी में हाल ही में हुए चुनावों के परिणामों पर किसी भी विजय रैली पर प्रतिबंध लगा चुका है.