वीडियो सामने आने के बाद अपने ही 2-साल के बच्चे को बेरहमी से मारने-पीटने वाली मां गिरफ्तार

विल्लूपुरम जिले के पुलिस अधीक्षक डॉ एन. श्रीनाथ ने NDTV को बताया, "दूसरा बेटा (प्रदीप) ऑपरेशन के ज़रिये पैदा हुआ था, और पैदाइश के बाद स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतें भी हुईं, जिसकी वजह से वह बच्चे को नापसंद करने लगी..."

वीडियो सामने आने के बाद अपने ही 2-साल के बच्चे को बेरहमी से मारने-पीटने वाली मां गिरफ्तार

तमिलनाडु पुलिस के मुताबिक, महिला द्वारा बच्चे को पीटे जाने के पीछे दो कारण हो सकते हैं...

तमिलनाडु पुलिस ने 23-वर्षीय एक महिला को अपने ही 2-वर्षीय बच्चे को कथित रूप से यातनाएं देने के लिए गिरफ्तार किया है. घटना उस वक्त सामने आई, जब विचलित कर देने वाले बहुत-से वीडियो ऑनलाइन सर्कुलेट होने लगे, जिनसे पुलिस एक्शन में आ गई.

कई वीडियो में से एक कथित रूप से फरवरी माह में महिला - जिसकी पहचान तुलसी के रूप में हुई है - ने खुद ही शूट किया था, जिसमें वह अपने बेटे प्रदीप को चेहरे पर मारती हुई दिखाई दे रही है, और बच्चे के मुंह से खून बहने के बावजूद उसे लगातार मारते देखा जा सकता है.

एक अन्य वीडियो में महिला को बच्चे के पैरों पर मारते देखा जा सकता है, और बच्चा दर्द से चीख रहा है, और उसके बाद तुलसी उसे चप्पल से मारती है. कुछ जगह महिला को भी रोते हुए देखा जा सकता है.

एक और वीडियो में बच्चे की पीठ पर खरोंचें देखी जा सकती है, जिनसे संकेत मिलता है कि उसे बेल्ट से पीटा गया है.

तुलसी और प्रदीप के पिता दोनों ही खेती का काम करते हैं, और उनके बीच हाल ही में तलाक हुआ है. तलाक के बाद तुलसी दो बच्चों (जिनमें प्रदीप छोटा है) को लेकर आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में अपनी मां के घर पर रहने लगी.

तमिलनाडु पुलिस की एक विशेष टीम ने चित्तूर जाकर तुलसी को गिरफ्तार किया.

जांचकर्ताओं का कहना है कि जब भी तुलसी का अपने पूर्व पति से झगड़ा हुआ करता था, वह बच्चे को यातना देती थी, और वीडियो रिकॉर्ड करती थी. जांचकर्ताओं का मानना है कि जन्म के समय हुई दिक्कतों की वजह से वह बच्चे के प्रति गुस्सा महसूस करती थी.

विल्लूपुरम जिले के पुलिस अधीक्षक डॉ एन. श्रीनाथ ने NDTV को बताया, "दूसरा बेटा (प्रदीप) ऑपरेशन के ज़रिये पैदा हुआ था, और पैदाइश के बाद स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतें भी हुईं, जिसकी वजह से वह बच्चे को नापसंद करने लगी..."

पुलिस का यह भी मानना है कि तुलसी दूसरी विवाह करना चाहती थी, जिसकी वजह से पूर्व पति से उसका विवाद हुआ.

डॉ एन. श्रीनाथ ने बताया, "प्रथम दृष्टया, यह भी लगता है कि वह एक अन्य व्यक्ति के संपर्क में थी, और वे दोनों शादी करने की योजना बना रहे थे... इस कारण उसके पति वादिवषगन से उसका विवाद हुआ, और इसी वजह से बच्चे को यातना देने का विचार पनपा..."


पुलिस उस शख्स को तलाश कर रही है, जिसके साथ तुलसी का कथित रूप से संबंध था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


महिला के विरुद्ध अपहरण, चोट पहुंचाने तथा कल्पेबल होमीसाइड (नॉट अमाउंटिंग टु मर्डर) का केस दर्ज कर लिया गया है. पुलिस के अनुसार, मनोचिकित्सकों ने पुष्टि कर दी है कि तुलसी मानसिक रूप से कतई स्वस्थ है, तथा उसे कोई मानसिक दिक्कत नहीं है. तुलसी का मानसिक परीक्षण मजिस्ट्रेट द्वारा पुलिस को दिए गए आदेश के बाद करवाया गया था. बच्चों को उनके पिता को सौंप दिया गया है.