उत्‍तराखंड में ग्‍लेशियर टूटने के बाद उत्‍तर प्रदेश में हाई अलर्ट

मुख्‍यमंत्री कार्यालय के ट्वीट के अनुसार योगी आदित्‍यनाथ ने उत्‍तराखंड में ग्लेशियर के टूटने से उत्‍पन्‍न हुई परिस्थितियों के दृष्टिगत प्रदेश में संबंधित विभागों, अधिकारियों एवं राज्‍य आपदा मोचन बल को हाई-अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया है.

उत्‍तराखंड में ग्‍लेशियर टूटने के बाद उत्‍तर प्रदेश में हाई अलर्ट

इसमें कई लोगों के फंसे होने की आशंका है.

लखनऊ:

उत्तराखंड में ग्लेशियर टूटने से उत्पन्न हुई परिस्थितियों के मद्देनज़र मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को उत्तर प्रदेश के संबंधित विभागों और अधिकारियों को हाई अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया. सरकारी प्रवक्‍ता के अनुसार इस बीच मुख्‍यमंत्री ने उत्‍तराखंड राज्‍य को हर प्रकार का सहयोग उपलब्‍ध कराने के निर्देश भी दिए हैं. मुख्‍यमंत्री कार्यालय के ट्वीट के अनुसार योगी आदित्‍यनाथ ने उत्‍तराखंड में ग्लेशियर के टूटने से उत्‍पन्‍न हुई परिस्थितियों के दृष्टिगत प्रदेश में संबंधित विभागों, अधिकारियों एवं राज्‍य आपदा मोचन बल को हाई-अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया है.

योगी ने गंगा नदी के किनारे पड़ने वाले सभी जिलों के जिलाधिकारियों और पुलिस अधीक्षकों को भी पूरी सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं. इस बीच, राज्‍य के अपर मुख्‍य सचिव (सूचना) नवनीत सहगल ने ट्वीट कर उत्‍तर प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को आपदा अलर्ट जारी किया है.

उन्होंने कहा है कि उत्‍तराखंड में नंदा देवी ग्‍लेशियर का एक हिस्‍सा टूटने की रिपोर्ट मिली है और गंगा नदी के किनारे पड़ने वाले सभी जिलों में जल स्‍तर संबंधी सतर्कता की 24 घंटे निगरानी किए जाने की आवश्‍यकता है. इसके लिए राष्‍ट्रीय आपदा मोचन बल, राज्‍य आपदा मोचन बल और पीएसी की बाढ़ नियंत्रण कंपनी को भी उच्‍च स्‍तर पर सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं.

उत्तराखंड: जोशीमठ में ग्लेशियर फटने से तबाही, कई लोगों के फंसे होने की आशंका, पावर प्रोजेक्ट ध्वस्त

वहीं, त्तराखंड के चमोली जिले की ऋषिगंगा घाटी में रविवार को हिमखंड के टूटने से अलकनंदा और इसकी सहायक नदियों में अचानक आई विकराल बाढ़ के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि नदी के बहाव में कमी आई है जो राहत की बात है और हालात पर लगातार नजर रखी जा रही है. रावत ने ट्वीट किया, ‘राहत की खबर ये है कि नंदप्रयाग से आगे अलकनंदा नदी का बहाव सामान्य हो गया है. नदी का जलस्तर सामान्य से अब एक मीटर ऊपर है लेकिन बहाव कम होता जा रहा है. राज्य के मुख्य सचिव, आपदा सचिव, पुलिस अधिकारी एवं मेरी समस्त टीम आपदा कंट्रोल रूम में स्थिति पर लगातार नज़र रख रही है.'

Video : उत्तराखंड: जोशीमठ में ग्लेशियर टूटा, संकट में कई गांव


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)