उत्‍तराखंड में कोरोना के प्रतिबंधों में रियायत, 6 दिन खुल सकेंगे बाजार, जिम-रेस्‍तरां के मामले में भी छूट

उत्‍तराखंड में अब हफ्ते में 6 दिन, सुबह 8 से शाम 5 बजे तक बाजार खुल सकेंगे. यही नहीं, जिम और रेस्तरां को 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ छूट दी गई है.

उत्‍तराखंड में कोरोना के प्रतिबंधों में रियायत, 6 दिन खुल सकेंगे बाजार, जिम-रेस्‍तरां के मामले में भी छूट

उत्‍तराखंड में कोरोना के इस समय करीब ढाई हजार एक्टिव केस हैं (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • जिम और रेस्‍तरां 50% मौजूदगी के साथ खुल सकेंगे
  • नैनीताल और मसूरी शहर मंगलवार को रहेंगे बंद
  • हफ्ते में 6 दिन, सुबह 8 से शाम 5 बजे तक खुलेंगे बाजार

पर्वतीय प्रदेश उत्‍तराखंड में कोरोना के केसों की संख्‍या कम आने के साथ ही प्रतिबंधों में रियायत दी गई है. राज्‍य में अब हफ्ते में 6 दिन, सुबह 8 से शाम 5 बजे तक बाजार खुल सकेंगे. यही नहीं, जिम और रेस्तरां को 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ छूट दी गई है. उत्‍तराखंड के दो प्रमुख शहर नैनीताल और मसूरी मंगल को बंद रहेंगे जबकि रविवार को खुलेंगे. गौरतलब है कि उत्‍तराखंड में इस समय कोरोना के 2465 एक्टिव मामले हैं, राज्‍य में अब तक कोरोना संक्रमण के कारण 7088 लोगों को जान गंवानी पड़ी है.

उत्तराखंड : कुंभ के दौरान कोविड टेस्‍ट घोटाला, दिल्ली-हरियाणा की लैब पर दर्ज होगी FIR

गौरतलब है कि देश में कोविड संक्रमण के मामलों में गिरावट देखी जा रही है और पिछले कई दिनों से नए मरीजों की संख्या 50 हजार के आंकड़े के ईर्द गिर्द बनी हुई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा सोमवार सुबह जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार, भारत में पिछले 24 घंटों में संक्रमण के 46,148 नए मामले सामने आए हैं जबकि इस अवधि में 979 मरीजों की मौत हुई है. जिसके बाद देश में एक्टिव मरीजों की संख्या 5,72,994 हो गई है, जो कि कुल मामलों का 1.89 फीसदी है. वहीं पिछले 24 घंटों में 58,578 मरीज ठीक हुए है, यह लगातार 46वां दिन है जब संक्रमण मुक्त मरीजों की संख्या नए मरीजों से ज्यादा है. 

कोरोना वैक्‍सीन को लेकर राहुल गांधी का केंद्र पर निशाना, कहा-देश को सच्‍चाई की उम्‍मीद थी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


रिकवरी रेट में भी सुधार देखने को मिल रहा है. केंद्रीय मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार भारत में रिकवरी रेट 96.80 प्रतिशत दर्ज किया गया है. पॉजिटिविटी रेट भी 2.81 फीसदी पर पहुंच गया है, अगर साप्ताहिक संक्रमण दर की बात करें तो वह भी पांच फीसदी के नीचे बरकरार है.