शोर की शिकायत पर पुलिस पहुंची, घर के तहखाने में मिली अवैध हथियारों की फैक्ट्री!

गाजियाबाद में पुलिस ने हथियारों की अवैध फैक्ट्री पकड़ी, सरगना फरार, उसकी पत्नी समेत पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया गया

शोर की शिकायत पर पुलिस पहुंची, घर के तहखाने में मिली अवैध हथियारों की फैक्ट्री!

गाजियाबाद में पुलिस ने हथियारों की अवैध फैक्ट्री पकड़ी है.

नई दिल्ली:

दिल्ली से सटे गाजियाबाद में पुलिस ने हथियारों की एक अवैध फैक्ट्री पकड़ी है. यह फैक्ट्री एक घर में तहखाना बनाकर उसमें चलाई जा रही थी. फैक्ट्री इस तरीके से बना रखी थी कि कोई सोच भी नहीं सकता था कि कमरे के अंदर अवैध हथियार बनाए जा रहे हैं. पुलिस ने मौके से 25 पिस्तौल बरामद करके पांच लोगों को गिरफ्तार किया है. अवैध हथियारों की यह फैक्ट्री गाजियाबाद के मुरादनगर में चल रही थी. पुलिस ने यहां छापा मारकर पिस्तौलों के अलावा बैरल, डेढ़ लाख रुपये, कारतूस, पिस्तौल बनाने का सामान बरामद किया है. इस गिरोह का मास्टरमाइंड मेरठ का रहने वाला है जो कि फरार हो गया है. पुलिस ने उसकी पत्नी को गिरफ़्तार कर लिया है.  

पुलिस के मुताबिक कुछ समय पहले से ही यहां पर अवैध पिस्टल बनाने का कारखाना चलाया जा रहा था. हथियार कितने लोगों को अब तक सप्लाई किए गए, इसकी जांच की जा रही है. पुलिस को सबसे ज्यादा हैरानी तहखाना देखकर हुई. दरअसल पुलिस भी यहां तक ना पहुंचती अगर किसी ने पुलिस को फोन करके ये शिकायत न की होती कि कबाड़ के गोदाम के साथ बने मकान से रात में आवाजें आती हैं. इस शिकायत की जांच करने पुलिस घर के अंदर पहुंची, तभी पुलिस को दरवाजे के पीछे एक और दरवाजा मिला. यह पुलिस को थोड़ा नया लगा. क्योंकि कमरे में एक तरफ अलग से बाथरूम बना था. एक बाथरूम बाहर भी बना था. बाकी के कमरे, रसोई भी बाहर थी. फिर आखिर कमरे के अंदर एक और कमरा बनाने का क्या मतलब. 


पुलिस ने वह दरवाजा खोलकर देखा तो एक 6 फुट की छोटी सी जगह बनी थी. जिसमें एक कोने में एक सीवर के ढक्कन जैसा स्लैब रखा था. पुलिस ने वह स्लैब हटाकर देखा तो नीचे लोहे की सीढ़ी मिलीं. पुलिस ने उससे नीचे जाकर देखा तो आगे एक छोटी सी सुरंग बनी हुई मिली, जिसके बाद एक बार फिर नीचे जाने के लिए ठीक उसी तरह की आयरन की सीढ़ी मिली. जब उससे भी नीचे देखा गया तो हथियारों की पूरी फैक्ट्री नजर आई. इसके बाद पुलिस ने फैक्ट्री को सील कर दिया और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. ये लोग बिहार के मुंगेर में ठेका लेते थे और फिर यहां देशी कट्टा बनाते थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इस गैंग का सरगना अपने रिश्तेदार के साथ फरार हो गया है, हालांकि सरगना की पत्नी गिरफ्तार हो चुकी है. आरोपी मुस्तफा, सालम, कैफ़ी आलम, सलमान और असगरी यह सभी गाजियाबाद के थाना मुरादनगर इलाके में अवैध असलाह बनाते थे. पुलिस के मुताबिक इस गैंग का सरगना जहीरुद्दीन है जो अपने रिश्तेदार फैयाज के साथ फरार है. पुलिस का कहना है कि जहीरुद्दीन मेरठ का रहने वाला है और वह पहले मेरठ में अवैध हथियार बनाता था. वहां पकड़े जाने के बाद उसने गाजियाबाद में इसकी शुरुआत कर दी थी. पुलिस उसकी तलाश कर रही है. पुलिस का कहना है कि दिल्ली-एनसीआर में यह अवैध हथियार सप्लाई किए जाते थे.