UP जिला पंचायत चुनाव: BJP का शानदार प्रदर्शन, PM मोदी ने CM योगी को दिया जीत का श्रेय

मिल रही जानकारी के मुताबिक उत्तर प्रदेश जिला पंचायत अध्यक्षों के 75 में से 67 सीटों पर भाजपा समर्थित उम्मीदवार विजयी हुए हैं. 

UP जिला पंचायत चुनाव: BJP का शानदार प्रदर्शन, PM मोदी ने CM योगी को दिया जीत का श्रेय

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर दी बधाई.(फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश जिला पंचायत चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के शानदार प्रदर्शन को लेकर बधाई दी है. इसके अलावा उन्होंने जीता का श्रेय योगी आदित्यनाथ को दिया है. पीएम मोदी ने ट्वीट करके कहा कि यूपी जिला पंचायत चुनाव में भाजपा की शानदार विजय विकास, जनसेवा और कानून के राज के लिए जनता जनार्दन का दिया हुआ आशीर्वाद है. इसका श्रेय मुख्यमंत्री योगी जी की नीतियों और पार्टी कार्यकर्ताओं के अथक परिश्रम को जाता है. यूपी सरकार और भाजपा संगठन को इसके लिए हार्दिक बधाई.

यूपी के स्थानीय निकाय चुनाव में बीजेपी की बड़ी जीत, अखिलेश यादव को झटका

वही, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने यूपी में भाजपा के शानदार प्रदर्शन के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं को बधाई दी और कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में भाजपा सरकार प्रदेश के वंचित वर्ग की आकांक्षाओं को पूरा कर प्रगति के नए मापदंड स्थापित करती रहेगी. मिल रही जानकारी के मुताबिक उत्तर प्रदेश जिला पंचायत अध्यक्षों के 75 में से 67 सीटों पर भाजपा समर्थित उम्मीदवार विजयी हुए हैं. 

शाह ने ट्वीट कर कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश पंचायत अध्यक्ष चुनाव में भाजपा की भव्य जीत पर योगी आदित्यनाथ और स्वतंत्र देव सिंह व सभी कार्यकर्ताओं को बधाई. नरेंद्र मोदी व योगी के नेतृत्व में भाजपा सरकार प्रदेश के किसान, गरीब व वंचित वर्ग की आकांक्षाओं को पूरा कर प्रगति के नए मापदंड स्थापित करती रहेगी.'' प्रदेश के 22 जिलों में जिला पंचायत अध्यक्ष निर्विरोध निर्वाचित घोषित किये गये हैं, जिनमें इटावा जिले को छोड़कर 21 निर्वाचित अध्यक्ष सत्तारूढ़ भाजपा के हैं. इटावा में समाजवादी पार्टी को जीत मिली है.


''मिशन यूपी'' : कांग्रेस कार्यकर्ताओं को जनांदोलन और संगठन मजबूत करने का मंत्र पढ़ा रहीं प्रियंका गांधी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


साल 2016 के जिला पंचायत अध्यक्षों के चुनाव में अखिलेश यादव की पार्टी ने 75 में से 60 सीटों पर कब्जा कर लिया था. हालांकि चुनाव विश्लेषकों का कहना है कि स्थानीय निकाय चुनाव इस बात का कोई संकेत देने वाले होने की संभावना नहीं है कि अगले साल विधानसभा चुनाव में हवा किस दिशा में चलेगी. ऐसा नहीं है कि यह चुनाव बीजेपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए एक अंतिम परीक्षा के रूप में भी काम करेगा. इसके बावजूद स्थानीय निकाय चुनाव पर पैनी नजर रखी जा रही है.