यूपी सरकार पूरी तरह विफल, महंगाई और जंगल राज के खिलाफ सड़कों पर उतरेगी कांग्रेस : प्रियंका गांधी वाड्रा

चायत चुनावों में बड़े पैमाने पर हिंसा की घटनाओं पर उन्‍होंने योगी आदित्‍नाथ की यूपी सरकार पर निशाना साधा.

यूपी सरकार पूरी तरह विफल, महंगाई और जंगल राज के खिलाफ सड़कों पर उतरेगी कांग्रेस : प्रियंका गांधी वाड्रा

Priyanka Gandhi Vadra ने कहा, यूपी सरकार हर मोर्चे पर विफल रही है

नई दिल्ली:

उत्‍तर प्रदेश में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Assembly Elections 2022) को लेकर सभी पार्टियों की सियासी गतिविधियां बढ़ गई हैं. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने उप्र कांग्रेस सलाहकार परिषद व रणनीतिक ग्रुप के साथ वर्चुअली बैठक की जिसमें महंगाई, कोरोना, पंचायत चुनावों और संगठन प्रशिक्षण शिविरों के मुद्दे पर चर्चा हुई. बैठक में प्रियंका ने कहा कि एनडीए सरकार के दौर में बढ़ती महंगाई से जनता परेशान है. पेट्रोल-डीजल, सरसों तेल, फल-सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं.

संसद का मॉनसून सत्र 19 जुलाई से 13 अगस्‍त तक, इस दौरान होंगी 19 बैठकें : स्‍पीकर ओम बिरला

किसानों से जुड़े मुद्दे पर उन्‍होंने कहा कि छुट्टा जानवर से किसान बेहाल है. किसान की लागत दोगुनी हुई है लेकिन आय घटी है.पंचायत चुनावों में बड़ी पैमाने पर हिंसा (UP Violence) की घटनाओं पर उन्‍होंने योगी आदित्‍नाथ की यूपी सरकार पर निशाना साधा.


कोरोना मामले घटने के बीच इन राज्यों ने बढ़ाई टेंशन, 58 जिलों में पॉजिटिविटी रेट 10% से ऊपर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


प्रियंका गांधी वाड़ा ने कहा कि पंचायत चुनावों में खुलेआम हिंसा हुई. भारतीय जनता पार्टी (BJP) कार्यकर्ताओं ने बम, पत्थर, और गोलियां चलाईं. बैठक में उन्‍होंने कहा कि यूपी सरकार हर मुद्दे पर विफल है. महंगाई, बेरोजगारी एवं जंगलराज के खिलाफ यूपी कांग्रेस सड़कों पर और मजबूती से उतरेगी.इससे पहले, प्रियंका ने 10 जुलाई को एक ट्वीट के जरिये भी पंचायत चुनाव हिंसा का जिक्र करते हुए यूपी सरकार पर निशाना साधा था. उन्‍होंने अपने ट्वीट में लिखा था, 'जनता ने वोट देकर बीडीसी चुने. योगीजी के जंगलराज ने गोली, बम, पत्थर, लाठी चलाकर उन्हें धमकाया, उनका अपहरण किया, महिला सदस्यों के साथ बदतमीजी की. वोट की ताकत वाले जनतंत्र पर योगीजी का जंगलराज हावी हो गया है. उन्हें ध्यान रखना चाहिए कि यह देश, इसका लोकतंत्र, इसकी जनता उनसे बड़ी है.'