दिल्ली में इन 30 जगहों पर उपलब्ध है Remdesivir, केजरीवाल सरकार ने जारी की सूची

पिछले कुछ सप्ताहों में कोरोना के बढ़ते मामलों में तेजी की वजह से अब इस महामारी की दूसरी लहर कहा जा रहा है. सोशल मीडिया भी उन हताश लोगों की कहानियों से भरा है जो अपने दोस्तों और परिवार के लिए ऑक्सीजन या अस्पताल में बेड की तलाश कर रहे हैं.

दिल्ली में इन 30 जगहों पर उपलब्ध है Remdesivir, केजरीवाल सरकार ने जारी की सूची

दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं....

नई दिल्ली:

देशभर में कोरोना के गंभीर मरीजों के लिए एंटी-वायरल ड्रग रेमडेसिविर की किल्लत के बीच दिल्ली सरकार ( Delhi government) ने 30 ऐसे जगहों की सूची जारी की है, जहां रेमडेसिविर (Remdesivir) उपलब्ध है. इसके साथ ही दिल्ली पुलिस को इन जगहों की सुरक्षा का इंतजाम करने के लिए कहा गया है. बता दें कि रेमडिसिविर का इस्तेमाल कोरोना वायरस के इलाज में होता है. वहीं, केंद्र ने 19 राज्यों के साथ रेमेडिसवियर के निर्माताओं को भी मैप किया है, जहां कोरोना के सबसे ज्यादा मामले हैं. केंद्र ने एक बयान में कहा कि इस दवा के सुचारू और तेजी से वितरण को सुनिश्चित करेगा. दिल्ली भी उन 19 राज्यों में से एक है जिन्हें यह आवंटन मिलेगा. 

मरीजों की संख्या के अनुपात में ऑक्सीजन तथा रेमडेसिविर उपलब्ध कराए केंद्र : राजस्‍थान

Remdesivir Available In The... by NDTV

पिछले कुछ सप्ताहों में कोरोना के बढ़ते मामलों में तेजी की वजह से अब इस महामारी की दूसरी लहर कहा जा रहा है. सोशल मीडिया भी उन हताश लोगों की कहानियों से भरा है जो अपने दोस्तों और परिवार के लिए ऑक्सीजन या अस्पताल में बेड की तलाश कर रहे हैं. इस समय अधिक से अधिक लोगों में सांस फूलने की शिकायतें आ रही हैं, जिन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट की जरूरत है. हालांकि, शहरों और कस्बों में मांग में अचानक उछाल के कारण ऑक्सीजन की आपूर्ति गंभीर रूप से सीमित हो गई है.

इससे पहले शनिवार को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा था कि कोविड बीमारी में काम आने वाली प्रमुख दवाई रेमडेसिविर का उत्पादन और आपूर्ति को बढ़ाने के लिए कई कदम उठाए गए हैं तथा अगले महीने की शुरुआत तक इसकी आपूर्ति 38.80 लाख यूनिट प्रति माह से बढ़कर 74 लाख यूनिट हो जाएगी. इसके साथ ही मंत्रालय ने राज्यों से इसकी अबाधित आपूर्ति और परिवहन सुनिश्चित करने को कहा. देश में अभी इस दवाई की कमी महसूस की जा रही है.

2021 का कोरोना वायरस है 'ज्‍यादा घातक', लंग्‍स को 40% ज्‍यादा डैमेज कर रहा, युवा भी हो रहे प्रभावित

केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को लिखे एक पत्र में यह भी कहा कि 21 अप्रैल से 30 अप्रैल तक राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों को जीवन रक्षक दवाई का अंतरिम आवंटन और आपूर्ति होगी. भल्ला ने कहा कि कोविड दवाओं की आपूर्ति की दैनिक आधार पर निगरानी और समन्वय के लिए राष्ट्रीय औषधि मूल्य निर्धारण प्राधिकरण और भारतीय औषधि महानियंत्रक के माध्यम से फार्मास्यूटिकल्स विभाग, रसायन और उर्वरक मंत्रालय के तहत एक निगरानी तंत्र स्थापित किया गया है.


छत्तीसगढ़ : रेमडेसिविर के लिए लंबी-लंबी कतारें

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com