राजनाथ ने कोविड-19 का टीका विकसित करने के लिए रूस के वैज्ञानिकों की सराहना की

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने पिछले माह घोषणा की थी कि रूस के वैज्ञानिकों ने कोविड-19 का दुनिया का पहला टीका ‘स्पुतनिक-5’ विकसित कर लिया है.

राजनाथ ने कोविड-19 का टीका विकसित करने के लिए रूस के वैज्ञानिकों की सराहना की

राजनाथ सिंह ने रूस के वैज्ञानिकों की सराहना की

मॉस्को:

भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने में सफलता पाने के लिए रूस की सरकार और वहां की जनता को बधाई दी, साथ ही संक्रमण का टीका विकसित करने के लिए देश के वैज्ञानिकों की सराहना की.रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने पिछले माह घोषणा की थी कि रूस के वैज्ञानिकों ने कोविड-19 का दुनिया का पहला टीका ‘स्पुतनिक-5' विकसित कर लिया है. उन्होंने कहा था कि उनकी एक बेटी को टीका लग चुका है और यह ‘‘काफी प्रभावी'' है तथा ‘‘स्थाई प्रतिरोधक क्षमता''विकसित करता है.

सिंह ने यहां शुक्रवार को शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक में अपने संबोधन में कहा ,‘‘ मैं रूस की सरकार और जनता को कोविड-19 महामारी पर सफलतापूर्वक नियंत्रण पाने के लिए बधाई देता हूं.''उन्होंने कहा,‘‘ हम रूस के वैज्ञानिकों और स्वास्थ्यकर्मियों को स्पुतनिक-5 टीका तैयार करने के लिए बधाई देते हैं. मैं महामारी के वक्त आप सब की अच्छी सेहत और सफलता की कामना करता हूं.''

रूस की सरकार ने कोविड-19 के टीके ‘स्पुतनिक 5' का, साथ मिल कर उत्पादन करने और देश में इसके तीन चरण में नैदानिक परीक्षण करने के लिए भारत से बात की है. हालांकि रूस के टीके के प्रभावी होने के संबंध में सीमित आंकडे उपलब्ध होने के कारण, इसे ले कर कुछ लोगों में संशय है.


चीनी समकक्ष की मौजूदगी में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह बोले, 'शांति के लिए विश्‍वास होना जरूरी '

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com



जॉन हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के अनुसार, रूस में संक्रमण से 17,598 लोगों की मौत हो चुकी है और संक्रमण के 10 लाख से अधिक मामले हैं.गौरतलब है कि सिंह आठ सदस्यीय एससीओ के रक्षा मंत्रियों की बैठक में भाग लेने के लिए तीन दिन की रूस यात्रा पर हैं.
 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)