राजस्थान में सियासी संकट के बीच BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिले ओम माथुर, इन मुद्दों पर चर्चा

राजस्थान में जारी सियासी संकट पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) करीब से नजर रख रही है. इस बीच सूत्रों से खबर मिल रही है कि राजस्थान में चल रहे उठापटक के मुद्दे पर बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) से पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर ( Om Mathur) ने मुलाकात की है.

राजस्थान में सियासी संकट के बीच BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिले ओम माथुर, इन मुद्दों पर चर्चा

Rajasthan Political Crisis: BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिले ओम माथुर.

नई दिल्ली:

राजस्थान में जारी सियासी संकट के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी जारी है. सचिन पायलट (Sachin Pilot) खेमे के विधायकों की अयोग्यता का मामला फिलहाल राजस्थान हाईकोर्ट में है. उधर भारतीय जनता पार्टी (BJP) भी पूरे घटनाक्रम पर करीब से नजर रख रही है. इस बीच सूत्रों से खबर मिल रही है कि राजस्थान में चल रहे उठापटक के मुद्दे पर बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) से पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर (Om Mathur) ने मुलाकात की है. सूत्रों ने बताया कि बीजेपी के राष्ट्रीय कार्यालय में करीब 1 घंटे तक चली बैठक में दोनों नेताओं के बीच राजस्थान के सियासी संकट पर चर्चा हुई. राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर ने जेपी नड्डा को प्रदेश के बारे में फीडबैक दिया. 

उधर, गहलोत खेमे के सूत्रों से मिले आंकड़ों के अनुसार, गहलोत कैंप ने 102 विधायकों का समर्थन हासिल होने का दावा किया है. गहलोत कैंप का दावा है कि उसके पास 102 विधायकों का समर्थन है. जिसमें कांग्रेस के 87 विधायक, भारतीय ट्राइबल पार्टी के 2 विधायक, सीपीएम के 2 विधायक, राष्ट्रीय लोक दल (RLD) का एक विधायक शामिल है. इसके अलावा, 10 निर्दलीय विधायकों का समर्थन होने का भी दावा किया है. इस लिहाज से गहलोत कैंप के पास 102 विधायक हैं.

राजस्‍थान संघर्ष: CM अशोक गहलोत का सचिन पायलट पर निशाना, 'उनके मासूम चेहरे के कारण धोखा खाया'

आइये अब देखते हैं कि अगर पायलट खेमा बीजेपी के साथ चला जाए तो सियासी गणित तैयार होगी. दावे के मुताबिक, बीजेपी और पायलट खेमे को मिलकर उनसे पास कुल 96 विधायक होने का अनुमान है. जिसमें बीजेपी के 72 विधायक, पायलट खेमे के 18 विधायक और हुनमान बेनीवाल के तीन विधायक और तीन निर्दलीय विधायक शामिल हैं.


राजस्थान के CM अशोक गहलोत और मोदी के मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत में क्यों है '36 का आंकड़ा'?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कांग्रेस के एक विधायक फिलहाल कोमा में हैं. दोनों पक्षों की ओर से दावा किया गया है कि उनके पास इतने विधायकों का समर्थन है. गहलोत और दूसरे गुट के बीच 6 विधायकों का अंतर है. बता दें कि सचिन पायलट शुरुआत से ही 30 विधायकों का समर्थन होने का दावा करते रहे हैं.

तेजी से होते घटनाक्रमों को के लिए आंख बंद नहीं कर सकते स्पीकर- बागी विधायकों पर अभिषेक मनु सिंघवी की 10 दलीलें

VIDEO: वेट एंड वॉच की रणनीति पर चल रही है बीजेपी: ओम माथुर