राजस्थान में 50 फुट गहरे बोरवेल में गिरा बच्चा, 24 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद ऐसे बची जान 

रींगस सर्किल अधिकारी सुरेन्द्र सिंह ने बताया कि मासूम रविन्द्र को पाइप के जरिये आक्सीजन दिया गया और रस्सी के सहारे पानी, दूध और बिस्कुट भी पहुंचाया गया.

राजस्थान में 50 फुट गहरे बोरवेल में गिरा बच्चा, 24 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद ऐसे बची जान 

रस्सी के सहारे पानी, दूध और बिस्कुट पहुंचाया गया (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जयपुर:

राजस्थान के सीकर जिले के खाटूश्याम जी थाना क्षेत्र में बृहस्पतिवार की शाम बोरवेल में गिरे साढे़ चार साल के मासूम को 24 घंटे से अधिक के समय के बाद 50 फुट गहरे बोरवेल से सुरंग बनाकर सकुशल निकाल लिया गया है. पुलिस अधिकारी ने इसकी जानकारी दी.

सीकर पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि साढे़ चार साल के मासूम रविन्द्र को 24 घंटे से अधिक समय के बाद सकुशल और सुरक्षित निकाल लिया गया. उन्होंने बताया कि बच्चे को चिकित्सीय जांच के लिये सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भेजा गया.

रींगस सर्किल अधिकारी सुरेन्द्र सिंह ने बताया कि मासूम रविन्द्र को पाइप के जरिये आक्सीजन दिया गया और रस्सी के सहारे पानी, दूध और बिस्कुट भी पहुंचाया गया.

उन्होंने बताया कि बच्चे को सकुशल सुरक्षित निकालने के लिये बोरवेल के नजदीक खुदाई कर एक गडढा बनाकर एक सुरंग के जरिये सकुशल बाहर निकाला गया. उन्होंने बताया कि इस दौरान बोरवेल के अंदर सीसीटीवी के जरिये बच्चे की हलचल पर लगातार निगरानी रखी गई.

जिला कलेक्टर अविचल चतुर्वेदी ने घटना स्थल पर 24 घंटे से अधिक समय तक चले रेसक्यू आपरेशन में लगे राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) और एनडीआरएफ की टीमों के सदस्यों की हौसला अफजाई की.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: 15 फीट गहरे बोरवेल में गिरी एक साल की बच्‍ची, छह घंटे बाद सुरक्षित निकाला



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)