"मोदी सरकार रोज़गार के लिए हानिकारक" : नौकरियों के आंकड़ों पर राहुल गांधी का 'वार'

राहुल 'क्रोनी कैपटलिज्‍म' को लेकर सरकार पर लगातार निशाना साधते रहे हैं. उन्‍होंने आरोप लगाया है कि सरकार कुछउद्योगपतियों के हित में काम कर रही है.

राहुल गांधी ने रोजगार के मुद्दे पर नरेंद्र मोदी सरकार पर 'हमला' बोला

नई दिल्‍ली :

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शुक्रवार को उन आंकड़ों को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी  और उनकी सरकार (PM Narendra Modi and his government) सरकार पर निशाना साधा जिनमें जानकारी दी गई है कि जुलाई माह की तुलना में अगस्‍त में नौकरी के अवसर 15 लाख कम हुए हैं.  वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से घोषित की  गई राष्ट्रीय मुद्रीकरण पाइपलाइन (एनएमपी) योजना सहित मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों की तीखी आलोचना करते  रहे राहुल ने मोदी सरकार को 'रोजगार के लिए  नुकसानदायक' (Harmful for employment) बताया है. पूर्व कांग्रेस अध्‍यक्ष ने ट्वीट में लिखा , 'मोदी सरकार रोज़गार के लिए हानिकारक है. वे किसी भी प्रकार के ‘मित्रहीन' व्यवसाय या रोज़गार को बढ़ावा या सहारा नहीं देते बल्कि जिनके पास नौकरी है उसे भी छीनने में लगे है. देशवासियों से आत्मनिर्भरता का ढोंग अपेक्षित है.जनहित में जारी.' 

66bt8voo

गौरतलब है कि राहुल 'क्रोनी कैपटलिज्‍म' को लेकर सरकार पर लगातार निशाना साधते रहे हैं. उन्‍होंने आरोप लगाया है कि सरकार कुछ उद्योगपतियों के हित में काम कर रही है.  राहुल ने यह ताजा हमला CMIE (Centre for Monitoring Indian Economy) के प्रबंध निदेशक महेश व्‍यास की ओर से NDTV से बातचीत में नौकरी की मौकों में कमी आने के खुलासे के बाद बोला है. नवीनतम आंकड़ों से संकेत मिलता है कि राष्‍ट्रीय बेरोजगारी, जुलाई माह के 6.96% से बढ़कर अगस्‍त माह में 8.32% पर पहुंच गई. शहरी बेरोजगारी जो जुलाई में  8.3%  थी, वह अगस्‍त माह में  9.78% तक पहुंच गई है.बुधवार को भी राहुल गांधी  ने रसोई गैस और डीजल-पेट्रोल की बढ़ती कीमत को लेकर केंद्र सरकार को आड़े हाथ लिया था. उन्‍होंने तंज कसते हुए कहा था कि सच में जीडीपी बढ़ रही है. उन्‍होंने कहा था कि राहुल ने कहा GDP का मतलब गैस डीज़ल पेट्रोल की क़ीमत बढ़ रही है. 

- - ये भी पढ़ें - -
* ट्रेन में अब सस्ती टिकट पर कर पाएंगे AC का सफर, रीडिंग लाइट समेत मिलेंगी कई सुविधाएं
* रमुख्य सतर्कता अधिकारियों के पास 200 से अधिक शिकायतें लंबितः CVC

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए उन्‍होंने कहा था, 'मोदी जी ने पहले कहा था कि मैं डिमोनेटाइजेशन कर रहा हूं. वित्त मंत्री कहती रहती हैं कि मैं मोनेटाइजेशन कर रही हूं. किसानों, मज़दूरों, छोटे दुकानदार, एमएसएमई, सैलरीड क्लास, सरकारी कर्मचारियों और ईमानदार उद्योगपतियों का डीमोनेटाइजेशन हो रहा है. दो चार बड़े उद्योगपतियों का मोनेटाइजेशन हो रहा है.' राहुल ने कहा कि डीजल-पेट्रोल की कीमतें बढ़ने का सीधा असर आम लोगों पर पड़ता है. इससे आम जरूरत की चीजों का ट्रांसपोर्टेशन चार्ज बढ़ता है औरफलस्‍वरूप महंगाई में इजाफा होता है.