NDTV से बोले पंजाब के CM कैप्टन अमरिंदर सिंह- 'अगर वो हमारे एक जवान को मारें तो उनके पांच मार गिराओ'

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने गुरुवार को कहा कि लद्दाख में चीन के रवैये का भारत को मुंहतोड़ जवाब देना चाहिए.

नई दिल्ली:

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने गुरुवार को कहा कि लद्दाख में चीन के रवैये का भारत को मुंहतोड़ जवाब देना चाहिए. लद्दाख में भारत-चीनी सैनिकों के बीच हुई झड़प में 20 भारतीय जवानों की जान जाने पर मुख्यमंत्री ने यह प्रतिक्रिया दी है. अमरिंदर सिंह ने कहा, "अगर वे हमारा एक जवान मारते हैं तो हमें उनके पांच जवान मारने होंगे."

पंजाब मुख्यमंत्री ने कहा कि 1962 की जंग में हम बिना हथियारों के कभी नहीं गए. 'मैं नहीं जानता कि यह आदेश किसने जारी किए लेकिन सिपाही हमेशा हथियारों के साथ पैट्रोलिंग करते हैं.चीनी सैनिक पूरी तैयारी के साथ आए थे जबकि भारतीय सैनिक इस कायराना हमले के लिए तैयार नहीं थे. किसी को तो जवाब देना होगा कि सिपाहियों को बिना हथियारों के क्यों भेजा गया ? हम पाषाण युग में नहीं, परमाणु युग में जी रहे हैं. अगर वे हमारा एक मारेंगे तो हम उनके पांच मारेंगे. उनको जोर से चोट करेंगे ,अगर उसके बाद वे बात करना चाहेंगे तो बात करेंगे.'

बता दें कि इस हफ्ते सोमवार रात को भारत और चीनी सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई थी. जिसमें 20 भारतीय जवानों ने जानें कुर्बान कर दी. सोमवार को भारतीय सैनिकों ने चीनी सैनिकों को गलवान नदी के पास जगह को खाली करने को कहा. इस पर चीनी सेना का बर्ताव बहुत ही आक्रामक हो गया. उन्होंने फौरन भारी संख्या में हमला बोल दिया और पत्थरबाजी शुरू कर दी. इस झड़प के दौरान जमकर पत्थरबाजी हुई और धक्का-मुक्की हुई. वहां पर जगह कम  होने के चलते और  तीखे पहाड़ों पर फिसलन के चलते कई जवान नाली में गिर गए और गलवान नदी में भी गिर गए. 


इस झड़प में कई जवान घायल हो गए कुछ जवान पहाड़  के चलते  फिसलकर गिर गए जिससे उन्हें चोटें आईं. गलवान नदी में गिरने के कारण कई जवान हाइपोथर्मिया के शिकार हो गए क्योंकि नदी का पानी ठंड से बिल्कुल जमा हुआ था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com