चिराग से पार्टी अध्यक्ष का पद भी लेने की तैयारी तेज, पटना में बुलाई गई अहम बैठक: सूत्र

लोकजन शक्ति पार्टी में चल रहे चाचा बनाम भतीजे विवाद में चिराग पासवान को एक के बाद एक करते हुए झटके देने की तैयारी जोरों शोरों से चल रही है.

चिराग से पार्टी अध्यक्ष का पद भी लेने की तैयारी तेज, पटना में बुलाई गई अहम बैठक: सूत्र

चिराग़ पासवान की जगह पशुपति कुमार पारस को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया जा सकता है: सूत्र

नई दिल्ली:

लोकजन शक्ति पार्टी (LJP) में चल रहे चाचा बनाम भतीजे (Chirag vs Paras) विवाद में चिराग पासवान को एक के बाद एक करते हुए झटके देने की तैयारी जोरों शोरों से चल रही है. पार्टी के संसदीय दल के नेता का पद लेने के बाद अब चिराग से पार्टी के अध्यक्ष और संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष का पद लेने की तैयारी तेज हो चली है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अब चिराग़ पासवान को लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष पद से हटाने की तैयारी है. पशुपति कुमार पारस व अन्य सांसद पटना जाएंगे और जल्द ही पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक बुलाई जाएगी. सूत्रों के अनुसार इस बैठक में चिराग़ पासवान की जगह पशुपति कुमार पारस को राष्ट्रीय अध्यक्ष और संसदीय बोर्ड का अध्यक्ष बनाया जा सकता है. इसके लिए कार्यकारिणी के सदस्यों से संपर्क साधा जा रहा है. 

Read Also: चिराग के साथ ऐसा क्यों हुआ? जानिए अंदर की कहानी

आपकी जानकारी के लिए बता दें इससे पहले पशुपति कुमार पारस को सोमवार को लोकसभा में चिराग पासवान की जगह पर पार्टी का नए नेता के रुप में मान्यता दी गई थी. LJP के 6 में से 5 सांसदों ने लोकसभा स्पीकर को पत्र सौंपा था, जिसमें चिराग की जगह पशुपति कुमार पारस को नेता नियुक्त किए जाने का अनुरोध किया था. उनके अनुरोध को स्वीकार करते हुए एक संसोधित अधिसूचना जारी की गई जिसमें पारस को लोजपा के नेता के रुप में मान्यता दी गई. 

Read Also: लोकसभा में LJP के नेता बने पशुपति कुमार पारस, स्पीकर ने दी मान्यता


बताते चलें कि बिहार विधानसभा चुनावों के नतीजों के बाद पार्टी के अंदर पैदा हुआ विरोध अब सतह पर नजर आने लगा है. पार्टी दो खेमों में विभाजित हो गई है. एक खेमा जो पारस के साथ खड़ा है, उसका मानना कि लोजपा को एनडीए गठबंधन के साथ बना रहना चाहिए और नीतीश की अगुवाई में ही काम करना चाहिए, वहीं दूसरा खेमा चिराग पासवान के समर्थकों का है जो नीतीश कुमार का धुर आलोचक है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


लोजपा में बगावत, अकेले पड़ गए चिराग; भतीजे पर भारी पड़े चाचा