सरकार जो घर देगी, उसकी मालिक महिलाएं : आजादी का अमृत महोत्सव में पीएम मोदी

पीएम मोदी ने लखनऊ में आजादी के अमृत महोत्सव से जुड़ी तीन दिन की कार्यशाला का उद्घाटन किया. उन्होंने पीएम आवास योजना के तहत यूपी के 75 जिलों के 75 हजार लाभार्थियों को डिजिटल माध्यम से उनके घरों की चाबी सौंपी

सरकार जो घर देगी, उसकी मालिक महिलाएं : आजादी का अमृत महोत्सव में पीएम मोदी

PM Modi ने पीएम आवास योजना के लाभार्थियों से वर्चुअली संवाद किया

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने मंगलवार को लखनऊ में आजादी के अमृत महोत्सव (Azadi Amrut Mahotsav) को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के तहत एक करोड़ से भी ज्यादा आवास का निर्माण हुआ है. इनमें से 80 फीसदी से ज्यादा घरों का मालिकाना हक महिलाओं के नाम पर है. पहले के वक्त में महिलाओं के नाम पर आवास, दुकान या वाहनों का स्वामित्व नहीं होता था, लेकिन अब तस्वीर बदली है. पीएम ने कहा कि लोग कहते हैं कि मोदी ने किया क्या है, लेकिन लाखों गरीबों को लखपति बनाने का काम पीएम मोदी ने किया है. ये आवास उनकी बड़ी संपत्ति हैं. 

पीएम मोदी ने कहा कि वक्त जब लखनऊ की बात आती थी तो कहा जाता थी कि पहले आप, आज हमें तकनीक को भी कहना पड़ेगा- पहले आप.  देश के 70 से ज्यादा शहरों के आधारभूत ढांचे में बड़ा बदलाव आया है. शहरों में कूड़े निस्तारण की व्यवस्था में बड़ा बदलाव आया है. कचरा निस्तारण से बिजली बनने के साथ सड़क निर्माण भी हो रहा है. इलेक्ट्रिक बसों को भी उन्होंने आधुनिक तकनीक का प्रतिबिंब बताया.

पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने 1.13 करोड़ घर देने का लक्ष्य रखा है. सरकार अब तक 50 लाख से ज्यादा घर बना कर दे चुकी है. 2014 के पहले घरों के आकार को लेकर कोई नीति नहीं थी, लेकिन उनकी सरकार ने यह बदलाव किया है. उन्होंने घर खरीदारों की मदद के लिए रेरा कानून का भी जिक्र किया.

साथ ही याद दिलाया कि सरकार किराया कानून ला रही है, जिससे मकान मालिकों और किरायेदारों की बीच विवाद खत्म हो जाएगा. पीएम मोदी ने रेहड़ी पटरी वालों को दिए गए छोटे कर्ज से मिली मदद का भी उल्लेख किया. पीएम मोदी ने एलईडी लाइट योजना की कामयाबी का उल्लेख किया. साथ ही पूरे देश में सीसीटीवी योजना का जिक्र करते हुए कहा कि इससे अपराधियों को किसी गुनाह करने के पहले सौ बार सोचना पड़ता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पीएम ने ट्रैफिक और प्रदूषण की समस्या के समाधान पर उठाए गए कदम भी गिनाए. पीएम ने कहा कि वर्ष 2014 के पहले 250 किलोमीटर में मेट्रो दौड़ती थी, जो अब 750 किलोमीटर हो चुका है. साथ ही 1050 किलोमीटर पर मेट्रो दौड़ाने का काम भी चल रहा है.