TMC सांसदों का निलंबन मुद्दा: मुख्‍तार अब्‍बास नकवी बोले, 'घटना में शामिल लोगों की सदस्‍यता रद्द करने का यह फिट केस'

ये छह टीएमसी सांसद राज्यसभा में सदन के भीतर प्ले कार्ड लेकर हंगामा कर रहे थे और चेयरमैन के बार-बार कहने के बावजूद सदन की कार्यवाही को बाधित कर रहे थे.

TMC सांसदों का निलंबन मुद्दा: मुख्‍तार अब्‍बास नकवी बोले, 'घटना में शामिल लोगों की सदस्‍यता रद्द करने का यह फिट केस'

केंद्रीय मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने तृणमूल कांग्रेस सांसदों के व्‍यवहार पर नाराजगी जताई है

नई दिल्ली:

Parliament Monsoon Session: केंद्रीय मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi) ने संसद के मानसून सत्र (Parliament Monsoon Session) के दौरान तृणमूल कांग्रेस (TMC) सांसदों के व्‍यवहार पर नाराजगी जताई है. उच्‍च सदन राज्‍यसभा में बुधवार को अनुचित आचरण के लिए सभापति एम वेंकैया नायडू ने छह तृणमूल कांग्रेस सांसदों को दिनभर के लिए कार्यवाही से सस्‍पेंड करने का आदेश दिया था. टीएमसी सांसदों के निलंबन मामले पर तीखी प्रति‍क्रिया देते हुए नकवी ने कहा, ' यह घटना अपनी हिंसक सियासत से टीएससी की लोकतंत्र को हाइजैक करने का हिस्सा है. यह दुर्भाग्यपूर्ण खेला होबे का नारा देते हैं. संसद के अंदर हंगामा करते हैं, जब चैयरमेन बाहर निकालते है तो हिंसक घटनाएं और तोड़फोड़ की जाती है.यह घटना निंदनीय है. तृणमूल कांग्रेस बंगाल में भी यह करती है.यह गंभीर विषय है. राज्यसभा में बीजेपी दल के उपनेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि ऐसी घटनाओं में शामिल लोगों के सदस्यता रद्द करने का फिट केस बनता है.' गौरतलब है कि निलंबित किए गए सांसदों में से कुछ ने हंगामा भी किया था. जानकारी के अनुसार, निलंबित किए गए एक सांसद ने कांच तोड़ा, इसमें लेड़ी सिक्‍युरिटी ऑफिसर घायल हो गई थी.

'उन्‍हें पापड़ी चाट से एलर्जी है तो फिश करी खा सकते हैं': नकवी का TMC सांसद ओ'ब्रायन पर निशाना

राज्‍यसभा के सभापति नायडू ने बुधवार को अनुचित आचरण' के लिए छह विपक्षी सांसदों (सभी तृणमूल कांग्रेस के) को दिनभर के लिए निलंबित किया था. इन छहों सांसदों को आज दिनभर के लिए सदन छोड़ने को कहा गया था.ये सांसद राज्यसभा में सदन के भीतर प्ले कार्ड लेकर हंगामा कर रहे थे और चेयरमैन के बार-बार कहने के बावजूद सदन की कार्यवाही को बाधित कर रहे थे. सभापति ने वेल में प्लेकार्ड लेकर हंगामा कर रहे सांसदों का नाम राज्यसभा सचिवालय से मांगे थे, इसके बाद जिन सांसदों को नाम दिया गया था, उनमें सांसद डोला सेन, नदीमुल हक़, अबीर रंजन बिश्वास, शांता क्षेत्री, अर्पित घोष और मौसम नूर शामिल थे. यह सभी सांसद तृणमूल कांग्रेस पार्टी से हैं.


पेगासस कांडः कांग्रेस ‘जासूसी की जेम्स बॉन्ड' थी, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा..

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इससे पहले, तृणमूल सांसद शांतनु सेन भी पेगासस मामले में केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्‍णव के हाथ से पेपर छीनकर फाड़कर उछालने के मामले में निलंबन का सामना कर चुके है. संसद के मॉनसून सत्र के दौरान पिछले माह उस समय राज्‍यसभा में उस समय तनाव की स्थिति बन गई जब केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव पेगासस मामले पर स्टेटमेंट देने के लिए खडे हुए, इसी दौरान टीएमसी के सांसद शांतनु सेन ने मंत्री के हाथ से स्टेटमेंट का पेपर छीनकर फाड़कर उपसभापति की तरफ उछाल दिया था. इस पर बीजेपी सांसद भी आक्रामक अंदाज में आगे बढ़े थे. इसे देखते हुए राज्‍यसभा की कार्यवाही स्‍थगित करनी पड़ी थी.