लोकसभा में कागज के टुकड़े फाड़कर फेंकने वाले विपक्ष के 10 सांसद हो सकते हैं निलंबित

लोकसभा की कार्यवाही के दौरान 12 बजे के आसपास विपक्ष के कुछ सांसदों ने लोकसभा में स्पीकर के चेयर के ऊपर कागज के टुकड़े फेंके थे.

लोकसभा में कागज के टुकड़े फाड़कर फेंकने वाले विपक्ष के 10 सांसद हो सकते हैं निलंबित

लोकसभा में आज विपक्ष के कुछ सांसदों ने लोकसभा में स्पीकर के चेयर के ऊपर कागज के टुकड़े फेंके थे (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

Parliament Monsoon Session: लोकसभा में बुधवार को हंगामा करने वाले विपक्ष के दस सांसदों को निलंबित किया जा सकता है. सरकार इस बारे में प्रस्ताव रखेगी. गौरतलब है कि आज सुबह हंगामा करने वाले सांसदों के खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है, इन्‍होंने लोकसभा में स्पीकर के चेयर के ऊपर कागज के टुकड़े पेपर फाड़कर फेंक दिए थे. गौरतलब है कि लोकसभा की कार्यवाही के दौरान 12 बजे के आसपास विपक्ष के कुछ सांसदों ने लोकसभा में स्पीकर के चेयर के ऊपर कागज के टुकड़े फेंके थे. केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने इसे लोकतंत्र को शर्मसार करने वाली घटना बताया.

प्रधानमंत्री ने हमारे फोन में हथियार डाल दिया है : Pegasus Scandal पर बोले राहुल गांधी

केंद्रीय मंत्री ठाकुर ने कहा कि जनता को संसद सत्र का इंतज़ार रहता है ताकि उनके मुद्दे संसद में उठें.आज कांग्रेस और टीएमसी के सांसदों ने हंगामा किया और मर्यादा तोड़ी. पत्रकार दीर्घा तक काग़ज़ फेंकना लोकतंत्र को शर्मसार करने वाली घटना है.इस घटना को लेकर सत्‍ता पक्ष के सदस्‍यों ने भी नाराजगी जताई. बीजेपी सांसद रामकृपाल यादव (Ram Kripal Yadav) ने NDTV से बातचीत के दौरान कहा कि विपक्ष के सांसद लोकसभा में गुंडागर्दी कर रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि सरकार संसद में हर मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है. असामाजिक तत्व भी इस तरह का बर्ताव नहीं करते जैसा सांसद कर रहे हैं. 


केंद्र सरकार विपक्ष की आवाज कुचलकर डिक्टेटरशिप दिखा रही है : सुखबीर सिंह बादल

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हंगामे के कारण बुरी तरह प्रभावित संसद के मॉनसून सत्र में आज सरकार और विपक्ष के बीच चल रहे गतिरोध के बीच राज्यसभा में बुधवार को पहली बार प्रश्नकाल हुआ और विभिन्न मंत्रियों ने सदस्यों के पूरक प्रश्नों के जवाब दिए. प्रश्नकाल के दौरान सदस्यों ने पूरक प्रश्न पूछे और पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी, नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, श्रम एवं रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव तथा सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री प्रतिमा भौमिक ने उनके जवाब दिए. हालांकि इस दौरान विपक्षी सदस्य आसन के समक्ष आ कर हंगामा करते रहे