ऑक्सीजन संकट के बीच ओडिशा बना सबसे बड़ा मददगार, कई जरूरतमंद राज्यों को भेजे 90 टैंकर

कोरोना महामारी के संकट के समय में ओडिशा सरकार अन्य जरूरतमंद राज्यों जैसे उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र, तमिलनाडु आदि को ऑक्सीजन सप्लाई कर रही है.

ऑक्सीजन संकट के बीच ओडिशा बना सबसे बड़ा मददगार, कई जरूरतमंद राज्यों को भेजे 90 टैंकर

ओडिशा सरकार अन्य जरूरतमंद राज्यों को ऑक्सीजन सप्लाई कर रही है. ( प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

कोरोना महामारी के संकट के समय में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों को ऑक्सीजन की काफी जरूरत पड़ रही है. ऑक्सीजन की कमी होने की वजह से बीते कुछ दिनों से देश में हाहाकार मचा हुआ है. ऑक्सीजन की किल्लत के चलते कई कोरोना मरीज़ दम तोड़ चुके हैं तो वहीं अधिकतर मरीज़ अपनी सांसों से जूझ रहे हैं. इस मुश्किल समय में ओडिशा सरकार अन्य जरूरतमंद राज्यों जैसे उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र, तमिलनाडु आदि  को ऑक्सीजन सप्लाई कर रही है.

ओडिशा से ऑक्सीजन के 90 कंटेनर/टैंकर रवाना हो चुके हैं. ये टैंकर राउरकेला, जजपुर, ढेंकनाल और अंगुल जिलों से अलग-अलग राज्यों में भेजे गए हैं. जबकि कुछ टैंकर आज और रवाना होने हैं. ओडिशा सरकार का कहना है कि वो इस महामारी में हर राज्य की मदद करने के लिए समर्पित है.

ओडिशा पुलिस की तरफ से ऑक्सीजन सप्लाई को लेकर आधिकारिक बयान में बताया गया है कि 90 टैंकर्स के जरिए 1675.781 MT मेडिकल ऑक्सीजन जरूरतमंद राज्यों को भेजा गया है.

or1vn93g


बयान में आगे कहा गया, 30 टैंकर्स के माध्यम से 644.72 MT ऑक्सीजन आंध्र प्रदेश भेजी गई. 19 टैंकर्स में 324.079 MT ऑक्सीजन तेलंगाना पहुंचाई गई. तमिलनाडु में 1 टैंकर के जरिए 15.98 MT ऑक्सीजन सप्लाई की गई. हरियाणा में 8 187.512  MT ऑक्सीजन के 8 टैंकर्स भेजे गए. 112.06  MT ऑक्सीजन के साथ 6 टैंकर्स महाराष्ट्र भेजे गए हैं. जबकि 4 टैंकरों में 61.44 MT ऑक्सीजन छत्तीसगढ़ पहुंचाई गई है.  वहीं 114.17 MT ऑक्सीजन के 7 टैंकर्स पिछले 5 दिनों में उत्तर प्रदेश भेजे गए हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बयान में यह भी बताया गया है कि राज्य के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के निर्देश पर ओडिशा से जरूरतमंद राज्यों को मेडिकल ऑक्सीजन सप्लाई करने के लिए  एक स्पेशल सेल भी बनाया गया है. ओडिशा पुलिस की तरफ से कहा गया है हमारी पूरी कोशिश है कि बिना किसी रुकावट के ऑक्सीजन सप्लाई पहुंचाई जाए.