नोएडा: Remdesivir की कालाबाजारी करते हुए 4 गिरफ्तार, 30 से 40 हजार रुपये में बेच रहे थे इंजेक्‍शन

आरोपियों के पास से कुछ नकली दवाइयां भी बरामद की गई है. पुलिस को आशंका है कि ग्रेटर नोएडा स्थित कुछ अस्पतालों के कर्मचारी व डॉक्टर भी इनसे मिले हुए हैं.

नोएडा: Remdesivir की कालाबाजारी करते हुए 4 गिरफ्तार, 30 से 40 हजार रुपये में बेच रहे थे इंजेक्‍शन

पुलिस के अनुसार, आरोपी 30 से 40 हजार लेकर रेडमिसिवर इंजेक्शन ब्लैक में बेच रहे थे (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • पुलिस को सोशल मीडिया के माध्‍यम से मिली सूचना
  • सूचना के आधार पर टीम बना आरोपियों को पकड़ा गया
  • पुलिस ने बताया, आरोपियों के पास से नकली दवाएं भी मिलीं
नोएडा:

गौतमबुद्ध नगर जिले के नॉलेज पार्क थाने की पुलिस ने Remdesivir इंजेक्शन की कालाबाजारी करने के आरोप में चार लोगों को बुधवार को गिरफ्तार किया है. इनके पास से भारी मात्रा में पुलिस उपायुक्त (जोन तृतीय)  इंजेक्शन तथा अन्य दवाइयां बरामद हुई है. पुलिस उपायुक्त (जोन तृतीय) राजेश कुमार सिंह ने बुधवार को बताया कि थाना नॉलेज पार्क पुलिस को सूचना मिली कि कुछ लोग कोविड-19 संक्रमण के मरीजों को दी जाने वाली इंजेक्शन Remdesivir व अन्य दवाइयों को सोशल मीडिया के माध्यम से ब्लैक कर रहे हैं.उन्होंने बताया कि घटना की सूचना के आधार पर पुलिस ने एक टीम बनाकर आज शुभम गोयल, वैभव शर्मा, शिवम शर्मा तथा योगेंद्र नामक चार लोगों को गिरफ्तार किया.

शादी समारोह में दूल्हे और पंडित को पीटने वाले DM के खिलाफ BJP विधायकों की शिकायत


पुलिस उपायुक्त (जोन तृतीय) सिंह ने बताया कि इन लोगों के पास से पुलिस ने भारी मात्रा में पुलिस उपायुक्त (जोन तृतीय)  इंजेक्शन व कोविड-19 से संबंधित दवाइयां बरामद की है.पुलिस उपायुक्त ने बताया कि पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला है कि ये लोग 30 से 40 हजार लेकर कोविड-19 से संक्रमित मरीजों को रेडमिसिवर की इंजेक्शन ब्लैक में उपलब्ध करा रहे थे, आरोपियों के पास से कुछ नकली दवाइयां भी बरामद की गई है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पुलिस को आशंका है कि ग्रेटर नोएडा स्थित कुछ अस्पतालों के कर्मचारी व डॉक्टर भी इनसे मिले हुए हैं. पुलिस पूरे मामले की गहनता से जांच कर रही है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)