पनामा पेपर मामले में बोलीं निर्मला सीतारमण, भारत से जुड़े लोगों की 20,078 करोड़ रुपये की अघोषित संपत्ति

वित्त मंत्री ने कहा कि पनामा पेपर लीक के 46 मामलों में आपराधिक अभियोजन शिकायतें दर्ज की गयी हैं जिनमें 20 मामले आयकर कानून, 1961 के अधीन हैं. वहीं, 26 मामले काला धन (अप्रकटित विदेशी आय और आस्ति) एवं कर अधिरोपण कानून, 2015 के अधीन हैं.

पनामा पेपर मामले में बोलीं निर्मला सीतारमण, भारत से जुड़े लोगों की 20,078 करोड़ रुपये की अघोषित संपत्ति

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लिखित जवाब में राज्यसभा को यह जानकारी दी. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

सरकार ने मंगलवार को कहा कि ताजा आंकड़ों के अनुसार पनामा पेपर लीक मामले में भारत से संबंधित लोगों के संबंध में कुल 20,078 करोड़ रुपए की अघोषित संपत्ति का पता चला है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक सवाल के लिखित जवाब में राज्यसभा को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा, ‘‘एक जून 2021 तक, पनामा पेपर लीक मामले में भारत से संबंधित व्यक्तियों के संबंध में कुल 20,078 करोड़ रुपए की अघोषित संपत्ति का पता चला है.'' वित्त मंत्री ने कहा कि पनामा पेपर लीक के 46 मामलों में आपराधिक अभियोजन शिकायतें दर्ज की गयी हैं जिनमें 20 मामले आयकर कानून, 1961 के अधीन हैं.


लोकसभा अध्यक्ष के घर केंद्रीय मंत्रियों का जमावड़ा, मानसून सत्र से पहले मिले 6 मंत्री

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं, 26 मामले काला धन (अप्रकटित विदेशी आय और आस्ति) एवं कर अधिरोपण कानून, 2015 के अधीन हैं. उन्होंने जांच के दौरान सामने आए भारतीयों के नाम के संबंध में पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि आयकर कानून, काला धन (अघोषित विदेशी आय और आस्ति) एवं कर अधिरोपण कानून के विभिन्न प्रावधानों के तहत विशिष्ट करदाताओं के बारे में जानकारी करना निषिद्ध है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)