महाराष्ट्र में कोरोना के करीब 37000 नए मामले, मुंबई में फिर मिले 5500 से ज्यादा मरीज

कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के मद्देनजर महाराष्‍ट्र में रविवार से नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला किया गया है. राज्‍य में मॉल्‍स को 8 बजे बंद करने के आदेश दिए गए हैं.

महाराष्ट्र में कोरोना के करीब 37000 नए मामले, मुंबई में फिर मिले 5500 से ज्यादा मरीज

मुंबई में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 5513 नए केस दर्ज हुए हैं

मुंंबई:

कोविड-19 के नए मामलों में आए ताजा उछाल के बीच महाराष्‍ट्र और महानगर मुंबई के रोजाना के आंकड़े लोगों को 'डराने' लगे हैं. महाराष्‍ट्र राज्‍य में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 36,902 नए केस दर्ज हुए हैं. राज्‍य में एक दिन में कोरोना मामलों की यह सबसे बड़ी संख्‍या है. राज्‍य में कोरोना संक्रमण के कारण आज 112 लोगों की मौत हुई है. महानगर मुंबई की बात करें तो वहां पिछले 24 घंटों में 5513 नए केस आए, यह भी मुंबई में एक दिन में केसों की सबसे बड़ी संख्‍या है.  महाराष्‍ट्र में कोरोना मृत्‍यु दर इस समय 2.04% है.महाराष्‍ट्र में गुरुवार को 35,952 कोरोना केस आए थे जबकि 111 लोगों की कोरोना इनफेक्‍शन के कारण मौत हुई थी. मुंबई में गुरुवार को 5,504 केस दर्ज किए गए थे और 9 लोगों की मौत हुई थी. 

Covid-19: पुणे में बेकाबू हुआ कोरोना, उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने दी सख्ती की चेतावनी

मुंबई में इस समय कोरोना के रोजाना लगभग 5,500 मामले आ रहे हैं. यही नहीं, धारावी एरिया में जनवरी के मुक़ाबले ऐक्टिव मामले मार्च में 100% बढ़े हैं. कोरोना संक्रमण के कारण बने हालात के चलते धारावी में लोगों की रोज़ीरोटी पर फिर आफ़त है इसलिए अब पूरी बस्ती को जल्द टीका लगाने की मुहिम बृहन्‍नमुंबई म्‍युनिसिपल कार्पोरेशन (BMC) ने शुरू कर दी है.


बेंगलुरु में बेकाबू कोरोना पर राज्य सरकार ने दिये सख्त निर्देश, कोविड रिपोर्ट नहीं लाने पर लगेगा जुर्माना

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के मद्देनजर महाराष्‍ट्र में रविवार से नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला किया गया है. राज्‍य में मॉल्‍स को 8 बजे बंद करने के आदेश दिए गए हैं. मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे के ऑफिस की ओर से शुक्रवार को यह जानकारी दी गई. गौरतलब है कि महाराष्‍ट्र में कोरोना के केसों में लगातार बढ़ोत्‍तरी देखने को मिल रही है. राज्‍य के कई शहरों में कोरोना के मामलों में लगातार इजाफे के कारण हालात चिंताजनक होते जा रहे हैं. महाराष्ट्र सरकार का अनुमान है कि राज्य में 4 अप्रैल तक कोरोना के ऐक्टिव मामले तीन लाख के पार जा सकते हैं.