शर्मनाक : सिलेंडर ब्लास्ट में जख्मी बच्चा स्ट्रैचर पर बिलखता रहा, फोन पर लगा रहा हॉस्पिटल स्टाफ, नहीं पसीजा दिल

वीडियो वायरल होने के बाद इस मामले में नयार अस्पताल के डीन ने जांच के आदेश दिए हैं.

शर्मनाक : सिलेंडर ब्लास्ट में जख्मी बच्चा स्ट्रैचर पर बिलखता रहा, फोन पर लगा रहा हॉस्पिटल स्टाफ, नहीं पसीजा दिल

वीडियो वायरल हो गया है.

मुंबई:

मुंबई में इंसानियत को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है. जहां एक सिलेंडर बलास्ट में जले एक बच्चा और एक युवक अस्पताल में तपड़ते रहे, लेकिन डॉक्टरों का दिल नहीं पसीजा. बच्चा स्ट्रैचर पर रोता रहा बिलखता रहा, लेकिन उनकी तरफ किसी ने ध्यान नहीं दिया. मामला मुंबई के नायर अस्पताल का है, जहां से एक वीडियो सामने आया है. 

बताया जा रहा है कि मंगलवार को वर्ली में बीडीडी की एक चॉल में सिलेंडर बलास्ट हो गया था, जिसमें एक बच्चा और युवक बुरी तरह से झुलस गए. उन्हें नायर अस्पताल में इलाज के लिए लाया गया. लेकिन करीब एक घंटे तक इलाज शुरू नहीं किया गया.

इंसानियत शर्मसार : आदिवासी युवक को पिकअप से बांध घसीटा, फिर पीट-पीट कर मार डाला, VIDEO वायरल

वीडियो में देखा जा सकता है कि युवक जमीन पर पड़ा हुआ तड़प रहा है और उसका पूरा शरीर आग से झुलसा हुआ है. वहीं, बच्चे को स्ट्रैचर पर लिटाया हुआ है, और वह भी दर्द की वजह से बिलख रहा है. उनका कोई इलाज शुरू नहीं किया जाता है. वहीं पास में एक टेबल पर एक नर्स और दो अन्य अस्पताल कर्मचारी बैठे हैं और फोन पर किसी से बात कर रहे हैं. लेकिन दर्द से तपड़ रहे उस युवक और बच्चे की तरफ किसी ने ध्यान नहीं दिया. वीडियो बनाने वाले ने पूछा कि इनका इलाज शुरू क्यों नहीं हुआ और कौन डॉक्टर है. तो उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया.

झरने में डूब रहा था यात्री, सिखों ने निकाली अपनी पगड़ी, ऐसे बचाई उसकी जान, लोग बोले- ये हैं असली हीरो - देखें Video

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो वायरल होने के बाद इस मामले में नयार अस्पताल के डीन ने जांच के आदेश दिए हैं. हालांकि, उनका कहना है कि इलाज में कुछ ही मिनट की देरी हुई थी. लेकिन परिजनों का आरोप है कि करीब एक घंटे तक दोनों लोग तड़पते रहे.