मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अखिलेश के कोरोना वैक्सीन पर बयान के खिलाफ

अपर्णा यादव ने कहा- यह कहना कि यह बीजेपी की वैक्सीन है, मुझे नहीं लगता कि यह ठीक है, मैं समझती हूं कि यह भारत की वैक्सीन है

मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अखिलेश के कोरोना वैक्सीन पर बयान के खिलाफ

अपर्णा यादव ने अखिलेश यादव के कोरोना वैक्सीन पर बयान को अनुचित बताया है (फाइल फोटो).

लखनऊ:

यूपी (UP) के पूर्व सीएम अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के इस बयान कि “बीजेपी की कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाएंगे” का बीजेपी (BJP) तो विरोध कर ही रही थी, अब मुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा यादव (Aparna Yadav) भी उसके खिलाफ खड़ी हो गई हैं. हालांकि आज अखिलेश यादव ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर साफ किया कि उनका बयान वैक्सीन बनाने वाले वैज्ञानिकों के खिलाफ नहीं बल्कि बीजेपी की नियत के खिलाफ है. देश कोरोना वैक्सीन का बेसब्री से इंतजार कर रहा है लेकिन भारत बायोटेक की वैक्सीन को अचानक मंजूरी मिल जाने को कई लोग जल्दबाजी में उठाया गया कदम मान रहे हैं. कुछ को सरकार की नियत पर भरोसा नहीं है. उस पर एतराज़ करने वाले अखिलेश यादव भी हैं. 

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा था कि ''देखिए मैं तो नहीं लगवाऊंगा वैक्सीन. मैंने अपनी बात कह दी, वो भी बीजेपी लगवाएगी, उसका भरोसा करूं मैं. अरे जाओ भाई…अपनी सरकार आएगी तो सबको फ्री वैक्सीन लगेगी. हम बीजेपी की वैक्सीन नहीं लगवा सकते.''

अखिलेश यादव का बयान आते ही उन पर बीजेपी नेताओं के हमलों की बाढ़ आ गई. इसे वह वैक्सीन बनाना वाले देश के वैज्ञानिकों का अपमान बताने लगे. केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि “यह बयान दुर्भाग्यपूर्ण है.” बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा ”यह जनता के बीच में भ्रम फैलने की कोशिश है.” डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि ”वैक्सीन को बीजेपी से जोड़ने पर आश्चर्य है.” डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने कहा “यह वैज्ञानिकों का अपमान है.” 

बीजेपी के इन हमलों के बीच मुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा यादव ने भी अखिलेश के बयान को गलत ठहरा दिया. अपर्णा यादव ने कहा ''यह जो उन्होंने कहा कि यह बीजेपी की वैक्सीन है, मुझे नहीं लगता कि यह ठीक है. मैं समझती हूं कि यह भारत की वैक्सीन है. भारतीय डॉक्टर्स, भारतीय साइंटिस्ट्स इस पर बहुत ज़्यादा अध्ययन और विचार करके यह वैक्सीन हमारे पास लेकर आए हैं.''


"BJP की वैक्सीन पर मैं कैसे विश्वास करूं," अखिलेश यादव बोले, पार्टी ने की माफी की मांग

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हालांकि आज अखिलेश यादव ने साफ किया कि उनका बयान वैज्ञानिकों की मेहनत के खिलाफ नहीं बीजेपी की नियत के खिलाफ है. अखिलेश यादव ने कहा ''समाजवादी पार्टी या मेरा खुद का बयान किसी भी साइंटिस्ट, किसी भी वालंटियर, या जो लोग उसमें शामिल हुए हैं, चाहे वह किसी तरह के एक्सपर्ट हों, उन किसी पर सवाल नहीं है. सवाल भारतीय जनता पार्टी पर है.''