6 माह में 2431 गिरफ्तार : दिल्ली पुलिस ने अवैध हथियारों के काले धंधे पर कसा शिकंजा

Delhi Illegal Arms Trade : पुलिस ने ऐसे अवैध शस्त्र बेचने वाले कई गिरोहों का भंडाफोड़ किया है. हजारों की संख्या में अवैध हथियार के साथ विस्फोटक जब्त किया गया है. साथ ही अवैध हथियार के धंधे में लिप्त बड़े अपराधियों को दबोचा गया है. 

6 माह में 2431 गिरफ्तार : दिल्ली पुलिस ने अवैध हथियारों के काले धंधे पर कसा शिकंजा

Delhi police को गैर कानूनी हथियारों के धंधे का भंडाफोड़ करने में मिली अप्रत्याशित कामयाबी

नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने कहा है कि गैर कानूनी हथियारों (Illegal Arms Trade) के काले कारोबार पर शिकंजा कसने में उसे पिछले छह माह में बड़ी कामयाबी मिली है. पुलिस ने ऐसे अवैध शस्त्र बेचने वाले कई गिरोहों का भंडाफोड़ किया है. हजारों की संख्या में अवैध हथियार के साथ विस्फोटक जब्त किया गया है. साथ ही अवैध हथियार के धंधे में लिप्त 2400 से ज्यादा अपराधियों को दबोचा गया है. दिल्ली पुलिस ने 1 जून से 30 नवंबर के बीच शस्त्र अधिनियम (Arms Act) के तहत 2431 लोगों को गिरफ्तार कर 2040 केस दर्ज किए हैं. इन अपराधियों से 1702 अवैध हथियार बरामद हुए हैं. इनमें 1493 देसी तमंचे, 195 रिवाल्वर-पिस्टल और 14 रायफलें शामिल हैं. इन अपराधियों से 3198 जिंदा कारतूस भी जब्त किए गए हैं.

यह भी पढ़ें- दिल्ली : झगड़ा रुकवाने गए दोस्त को मिली मौत, हमलावरों ने 22 बार मारा चाकू


Delhi police ने गैर कानूनी हथियारों को जब्त करने और ऐसे अवैध कारोबार का भंडाफोड़ करने को अप्रत्याशित सफलता बताया है. पुलिस के अनुसार, अवैध हथियार के सौदागर दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) क्षेत्र में अपना पैठ जमाने में लगे हुए थे, लेकिन पुलिस की कार्रवाई ने उनकी कमर तोड़ दी है. ऐसे गिरोहों के कई बड़े सरगना सलाखों के पीछे भेजे जा चुके हैं. मसलन, 19 अक्टूबर को दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल ने गैर कानूनी हथियारों का धंधा करने वाले एक अंतरराज्यीय गैंग के एक गुर्गे को रोहिणी से पकड़ा. उसके पास से 25 सेमी ऑटोमैटिक पिस्टल बरामद की गईं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दिल्ली पुलिस (Delhi Police)  कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव ने ऐसे अवैध धंधों में लिप्त अपराधियों पर कार्रवाई के लिए एक कार्ययोजना तैयार की थी. दिल्ली पुलिस की एक टीम को जमीनी स्तर पर खुफिया सूचनाएं इकट्ठा करने में जुटाया गया. दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच और स्पेशल सेल ने विशेष खुफिया और छापामार टीमें गठित कीं.आपराधिक गिरोहों ( Illegal arms supply racket ) की जानकारी ली गई और कार्रवाई अब भी जारी है.