भारत में अगले 100-125 दिन क्रिटिकल, COVID-19 की तीसरी लहर की ओर बढ़ रही दुनिया : डॉ. वीके पॉल

संयुक्‍त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि केरल, महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक और ओडिशा से आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना की स्थिति को लेकर बात की. पीएम ने इन राज्यों से टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट और टीका पर ज़ोर देने को कहा है.

भारत में अगले 100-125 दिन क्रिटिकल, COVID-19  की तीसरी लहर की ओर बढ़ रही दुनिया : डॉ. वीके पॉल

देश के 47 जिलों में कोरोना पॉजिटिविटी रेट अभी भी 10% से ऊपर है (प्रतीकात्‍मक फोटो)

नई दिल्ली:

Corona Pandemic: कोरोना की दूसरी लहर में आए उतार के बाद केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय (Health Ministry) ने 73 जिलों को चिंता का कारण माना है, इन जिलों में रोजाना 100 से ज्‍यादा कोरोना केस दर्ज हो रह हैं. मंत्रालय ने यह भी जानकारी दी कि 47 जिलों में पॉजिटिविटी 10% से ज्यादा है. वैसे समग्र रूप से पिछले 25 दिनों से ओवरआल पॉजिटिविटी रेट 3 फीसदी से कम है.कोरोना को लेकर मीडिया ब्रीफिंग में नीति आयोग के सदस्‍य वीके पॉल ने कहा कि कोरोना को लेकर भारत में अगले 100 से 125 दिन क्रिटिकल हैं. विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य (WHO) ने डेटा के आधार पर एनालाइज किया है. वर्ल्ड तीसरी वेब की ओर बढ़ रहा है. उन्‍होंने कहा कि पीएम ने आज कहा कि इसे वार्निंग लेकर चलिए. 64% केस स्पेन में केस एक हफ्ते में बढ़े, 300% नीदरलैंडस में केस बढ़े. डॉ. वीके पॉल ने कहा कि WHO की चेतावनी ग्लोबल है. उसे हमें समझना है  और जो टूल हैं उन्हें हमे अपनाना है. हमारी पॉपुलेशन अभी भी वर्लनेबल है. अभी देश मे हर्ड इम्युनिटी नही है. सिचुएशन कंट्रोल में है लेकिन स्थिति बिगड़ सकती है.

पिछले 24 घंटे में सामने आए कोरोना के 38,949 नए मामले, 542 मरीजों की मौत

डॉ. पॉल के कहा कि इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के मुताबिक, कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज से मौत का खतरा 95% कम हो जाता है और एक डोज से 82% तक मौत का खतरा घट जाता है. उन्‍होंने बताया कि तमिलनाडु के पुलिसकर्मियो पर की गई एक स्टडी के आधार पर इसका दावा किया गया. ये स्टडी इस साल 1 फरवरी से 14 मई तक की गई थी. तमिलनाडु में 67673 पुलिसकर्मियों ने वैक्सीन की दोनो डोज ली जबकि 32792 ने सिर्फ एक डोज ली.17059 ऐसे थे जिन्हें एक भी dose नहीं लगी थी, इनमें से 31 लोगों की मौत हो गई. चार लोग ऐसे थे जिन्हें दोनों डोज लगी थी. 7 लोगों को एक डोज लगी थी और 20 लोग ऐसे थे जिन्होंने वैक्‍सीन नहीं लगाई थी.स्टडी में पाया गया कि वैक्सीनेटेड लोगों को अस्पताल जाने की नौबत 77% कम हो जाती है.ऑक्सीजन की जरूरत 95% कम हो जाती है. आईसीयू की जरूरत 94% कम हो जाती है.


कोरोना के खिलाफ PM ने राज्यों को दिया 4-T मंत्र, कहा- 'जहां ज्यादा केस, वहां उतना ज्यादा फोकस' 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय में संयुक्‍त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि केरल, महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक और ओडिशा से आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना की स्थिति को लेकर बात की. पीएम ने इन राज्यों से टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट और टीका पर ज़ोर देने को कहा है. पड़ोसी देशों में कोरोना के हालात का जिक्र करते हुए अग्रवाल ने कहा कहा  म्‍यांमार, इंडोनेशिया, बांग्लादेश और मलेशिया में कोरोना के केस बढ़ रहे हैं. इस स्थिति को भारत मे लोगों को समझने की जरूरत है और उस हिसाब से कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें.