मध्य प्रदेश: निकाय चुनाव से पहले गोडसे फॉलोअर कांग्रेस में शामिल, कमलनाथ थे मौजूद

बाबूलाल चौरसिया जिस वार्ड से पार्षद हैं, वहां देश का इकलौता नाथूराम गोडसे का मंदिर है. चौरसिया के कांग्रेस में शामिल होने पर एमपी कांग्रेस ने ट्वीट कर इसकी जानकारी साझा की है.

मध्य प्रदेश: निकाय चुनाव से पहले गोडसे फॉलोअर कांग्रेस में शामिल, कमलनाथ थे मौजूद

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ बाबूलाल चौरसिया को कांग्रेस में शामिल होने के मौके पर गुलदस्ता देते हुए.

भोपाल:

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के ग्वालियर नगर निगम में वार्ड नंबर 44 के पार्षद एवं हिन्दू महासभा (Hindu Mahasabha) के नेता बाबूलाल चौरसिया (Babulal Chaurasia) ने बुधवार, 25 फरवरी को कांग्रेस का हाथ थाम लिया. राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ जी की मौजूदगी में चौरसिया कांग्रेस में शामिल हुए. चौरसिया जिस वार्ड से पार्षद हैं, वहां देश का इकलौता नाथूराम गोडसे का मंदिर है. चौरसिया के कांग्रेस में शामिल होने पर एमपी कांग्रेस ने ट्वीट कर इसकी जानकारी साझा की है.

बाबूलाल चौरस‍िया की घर वापसी हुई है क्योंकि वह पहले भी कांग्रेस में थे लेकिन पिछले चुनाव में टिकट नहीं मिलने की वजह से उन्होंने कांग्रेस से बगावत करते हुए हिन्दू महासभा के टिकट पर पार्षदी का चुनाव लड़ा था और कांग्रेस की उम्मीदवार शम्मी शर्मा को हराया था.

किसका खौफ था, जो PM मोदी का नाम 10 बार लिया : मध्य प्रदेश की राज्यपाल से पूछा कमलनाथ ने सवाल


चौरसिया के कांग्रेस में वापसी के मौके पर ग्वालियर साउथ के विधायक प्रवीण पाठक और प्रखंड अध्यक्ष संतोष शर्मा समेत पार्टी के कई नेता मौजूद थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


शिवराज सिंह सरकार ने कोरोना काल में जनता में बांटा 30 करोड़ का काढ़ा, कांग्रेस ने इसे घोटाला बताया..