GST संग्रह में गिरावट, अप्रैल में रिकॉर्ड वसूली के बाद मई में 1 लाख करोड़ रुपये के करीब

अप्रैल में रिकॉर्ड वसूली के बाद गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) के मई महीने के कलेक्शन में गिरावट दर्ज की गई है. मई में जीएसटी का कुल कलेक्शन 1,02,709 करोड़ रुपये रहा.

GST संग्रह में गिरावट, अप्रैल में रिकॉर्ड वसूली के बाद मई में 1 लाख करोड़ रुपये के करीब

मई में GST संग्रह में गिरावट दर्ज की गई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  • अप्रैल में हुई थी GST की रिकॉर्ड वसूली
  • मई महीने में GST संग्रह में गिरावट
  • 1,02,709 करोड़ रुपये रहा कुल कलेक्शन
नई दिल्ली:

अप्रैल में रिकॉर्ड वसूली के बाद गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) के मई महीने के कलेक्शन में गिरावट दर्ज की गई है. मई में जीएसटी का कुल कलेक्शन 1,02,709 करोड़ रुपये रहा. इसमें सीजीएसटी 17,592 करोड़, एसजीएसटी 22,653 करोड़ और आईजीएसटी 53,199 करोड़ रुपये रहा. उपरोक्त आंकड़े में 4 जून तक घरेलू लेनदेन से जीएसटी संग्रह शामिल हैं क्योंकि करदाताओं को कोविड महामारी की दूसरी लहर के मद्देनजर रिटर्न फाइलिंग के लिए मई 2021 में 15 दिनों के लिए देरी से रिटर्न दाखिल करने पर ब्याज में छूट/कमी के रूप में विभिन्न राहत उपाय दिए गए थे.

इस महीने के दौरान सरकार ने नियमित निपटान के रूप में आईजीएसटी से 15,014 करोड़ रुपये सीजीएसटी और 11,653 करोड़ रुपये एसजीएसटी को निपटाया है. पिछले साल मई की तुलना में इस साल मई में जीएसटी का राजस्व 65 फीसदी ज्यादा रहा है.

वित्त मंत्री ने बताया, GST काउंसिल की बैठक में हुए 7 फैसले, वैक्सीन पर टैक्स को लेकर बना मंत्रिसमूह

एक बयान में वित्त मंत्रालय ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के बावजूद अप्रैल माह में व्यापारिक गतिविधियां इतनी प्रभावित नहीं हुई थीं. साथ ही उपभोक्ताओं ने समय पर जीएसटी का बकाया चुकाया था. अप्रैल 2021 में जीएसटी कलेक्शन 1.41 लाख करोड़ रहा था. मार्च के मुकाबले यह 14 फीसदी ज्यादा था. मार्च महीने में कुल संग्रह 1.24 लाख करोड़ था.

अप्रैल में रिकॉर्ड जीएसटी राजस्व संग्रह सरकार के लिए एक बड़ी उपलब्धि थी, खासकर क्योंकि यह देश में दूसरी कोविड लहर के बीच में आया था. साल 2017 में लागू होने के बाद से गुजरात, ओडिशा, हिमाचल प्रदेश, महाराष्ट्र सहित कई राज्यों ने अब तक के सबसे अधिक जीएसटी संग्रह की सूचना दी.

GST के तहत रिकॉर्डतोड़ इकट्ठा हुआ टैक्स, मार्च 2021 के लिए इतना रहा कलेक्शन

यह लगातार आठवां महीना है जब जीएसटी का कलेक्शन एक लाख करोड़ के आंकड़े को पार कर गया है, जबकि कई राज्यों में कोरोना के चलते लॉकडाउन/कर्फ्यू लागू है. बता दें कि 5 करोड़ रुपये से अधिक के टर्नओवर वाले करदाताओं को 4 जून तक अपना रिटर्न दाखिल करना था, जिसे पहले उन्हें 20 मई तक दाखिल करना था.


वहीं 5 करोड़ रुपये से कम टर्नओवर वाले छोटे करदाताओं के पास अभी भी जुलाई के पहले सप्ताह तक बिना किसी विलंब शुल्क और ब्याज के रिटर्न दाखिल करने का समय है और इन करदाताओं के राजस्व को तब तक के लिए टाल दिया गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: बड़ी खबर : बेनतीजा रही जीएसटी की बैठक, कोविड के सामान पर GST छूट पर फैसला नहीं