गोवा : हार गए मनोहर पर्रिकर के बेटे, लेकिन उनको हराने के बाद भी दुखी क्यों हैं BJP के प्रत्याशी

Goa Election Results: उत्पल पर्रिकर को बीजेपी के उम्मीदवार अतानासियो मोनसेरेट से हार मिली है. हालांकि बीजेपी के उम्मीदवार अतानासियो मोनसेरेट अपनी जीत से खुश नहीं हैं.

गोवा : हार गए मनोहर पर्रिकर के बेटे, लेकिन उनको हराने के बाद भी दुखी क्यों हैं BJP के प्रत्याशी

पणजी सीट से उत्पल पर्रिकर ने निर्दलीय के रूप में चुनाव लड़ा था

पणजी:

Goa Election Results: पूर्व रक्षा मंत्री दिवंगत मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर ने गोवा की पणजी सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ा था और बेहद ही कम वोटों के अंतर से इन्हें हार मिली है. उत्पल पर्रिकर को बीजेपी के उम्मीदवार अतानासियो मोनसेरेट ने हराया है. हालांकि बीजेपी के उम्मीदवार अतानासियो मोनसेरेट अपनी जीत से खुश नहीं हैं. दरअसल महज 716 वोटों से अतानासियो मोनसेरेट को ये जीत मिली है. अतानासियो मोनसेरेट ने एनडीटीवी से बात करते हुए कहा है कि वे इतने कम वोटों से मिली जीत से खुश नहीं हैं. उन्होंने ये दावा भी किया कि कई बीजेपी समर्थकों ने उन्हें वोट नहीं दिया.

अतानासियो मोनसेरेट ने कहा कि "मैंने बीजेपी नेताओं से ये कहा है कि उन्हें भविष्य में सावधान रहना चाहिए. राज्य बीजेपी इकाई ने लोगों को सही संदेश नहीं दिया. मैं सभी बीजेपी नेताओं के संपर्क में हूं और मैं बीजेपी के साथ हूं."  "मैं परिणाम से संतुष्ट नहीं हूं. बीजेपी के कई कट्टर मतदाताओं ने उत्पल को वोट दिया है. यही कारण है कि उन्हें इतने वोट मिले." श्री मोनसेरेट ने आगे कहा कि बीजेपी गोवा में अगली सरकार बनाने के लिए निश्चित है और प्रमोद सावंत हमारे मुख्यमंत्री होंगे. 

बता दें कि बीजेपी की ओर से टिकट न मिलने पर उत्पल पर्रिकर ने निर्दलीय के रूप में चुनाव लड़ा था. पेश से इंजीनियर उत्पल पर्रिकर ने कहा था कि वे पणजी में बीजेपी के उम्मीदवार के खिलाफ लड़ने के लिए अपने राजनीतिक जीवन को दांव पर लगा रहे हैं. खासकर जब उनके पिता ने गोवा में और विशेष रूप से पणजी निर्वाचन क्षेत्र में पार्टी का निर्माण किया.

Video: राज्‍यपाल के पास जाने की जल्‍दी नहीं: गोवा भाजपा नेता विश्‍वजीत राणे


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com