राहुल गांधी ने भारत की विदेश नीति पर सवाल उठाया तो विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने दिया यह जवाब..

राहुल की ओर से सरकार की नीतियों पर किए गए इस प्रहार पर विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने जवाब देने में देर नहीं लगाई.

राहुल गांधी ने भारत की विदेश नीति पर सवाल उठाया तो विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने दिया यह जवाब..

विदेश मंत्री ने राहुल गांधी के ट्वीट का जवाब जवाबी ट्वीट करके दिया है

नई दिल्ली:

केंद्रीय मंत्री डॉ. एस. जयशंकर (S. Jaishankar) ने भारत की विदेश नीति (Foreign Policy) पर सवाल उठाने के मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी को जवाब दिया है. राहुल गांधी ने हाल ही में एक ट्वीट करके देश की विदेश नीति पर सवाल उठाए थे. कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष ने अपने ट्वीट में कहा था- वर्ष 2014 के बाद से, प्रधानमंत्री की लगातार बड़ी गलतियों और अविवेकपूर्ण फैसलों ने भारत को मौलिक रूप से कमजोर किया है और हमें असुरक्षित बना दिया है. राहुल की ओर से सरकार की नीतियों पर किए गए इस प्रहार पर विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने जवाब देने में देर नहीं लगाई. उन्‍होंने जवाबी ट्वीट में कहा- राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने विदेश नीति पर सवाल उठाए हैं. यहां मैं कहना चाहता हूं कि हमारी प्रमुख पार्टनरशिप मजबूत और इंटरनेशनल स्‍टेडिंग ऊंची हुई है. अंतरराष्‍ट्रीय सम्‍मेलनों और अमेरिका, रूस, यूरोप और जापान के साथ बैठकों में यह देखा जा सकता है.


गौरतलब है कि पिछले कुछ समय से राहुल गांधी और केंद्र सरकार के बीच ट्वीट वार जारी है. राहुल अपने ट्वीट के जरिये सरकार पर निशाना साधते रहे हैं और केंद्र सरकार की ओर से इस पर पलटवार किया जाता रहा है. भारत-चीन सीमा गतिरोध मामले में राहुल ने सरकार के खिलाफ हमलावर रुख अख्तियार कर रखा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कोरोना की महामारी के खिलाफ केंद्र सरकार की ओर से किए जा रहे उपायों को लेकर भी वे ट्वीट कर चुके हैं.कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के मामलों में लगातार हो रही बढ़ोतरी को लेकर सोमवार को सवाल किया कि क्या कोविड-19 (COVID-19) के खिलाफ लड़ाई में भारत अच्छी स्थिति में है. उन्होंने भारत में कोरोना वायरस के मामले बढ़ने की तुलना दुनिया के कई देशों में कोविड के संक्रमण में बढ़ोतरी से करने वाला एक ग्राफ साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘‘कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में भारत अच्छी स्थिति में है?''