मानवीय पहल : टोल प्लाजा पर धरना दे रहे थे किसान, प्रशासन ने लगवाया कोरोना का टीका

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के सचिव एवं कोविड-19 टीकाकरण के नोडल अधिकारी राजीव प्रसाद के प्रयासों से कितलाना टोल प्लाजा पर धरनारत सभी किसानों के नमूने जांच के लिए एकत्र किए गए, जिसमें दो किसान कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे.

मानवीय पहल : टोल प्लाजा पर धरना दे रहे थे किसान, प्रशासन ने लगवाया कोरोना का टीका

प्रतीकात्मक तस्वीर.

भिवानी:

हरियाणा (Haryana) के भिवानी में केंद्र के नए कृषि कानूनों के विरोध में कितलाना टोल प्लाजा पर धरनारत 170 किसानों ने कोविड-19 (Covid-19) टीकाकरण (Vaccination) करवाया है. उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य ने शनिवार को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के सचिव एवं कोविड-19 टीकाकरण के नोडल अधिकारी राजीव प्रसाद के प्रयासों से कितलाना टोल प्लाजा पर धरनारत सभी किसानों के नमूने जांच के लिए एकत्र किए गए, जिसमें दो किसान कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे. दोनों किसान गृह पृथक-वास में चले गए थे.

संयुक्त किसान मोर्चा ने कृषि कानून पर वार्ता दोबारा शुरू करने के लिए पीएम मोदी को लिखा पत्र 

आर्य ने कहा कि इसके बाद सभी किसानों ने मिलकर कोविड-19 टीका लगवाने का निर्णय लिया. शुरू में कुछ किसान इस टीकाकरण का विराध कर रहे थे, परन्तु नोडल अधिकारी के समझाने व कोरोना महामारी की गंभीरता के प्रति जागरूक करने पर वे टीकाकरण के लिए तैयार हो गए. उपायुक्त ने कहा कि किसानों के इस निर्णय का प्रशासन स्वागत करता है और अन्य टोल प्लाजा पर बैठे किसानों से भी आह्वान करता है कि वे भी टीकाकरण अवश्य करवाएं.

'दावा 30 करोड़ का लेकिन हकीकत में सिर्फ 4 करोड़', टीकाकरण पर पूर्व केंद्रीय मंत्री ने यूं साधा निशाना 

संयुक्त किसान मोर्चा (Samyukta Kisan Morcha) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर तीन कृषि कानूनों पर बातचीत फिर से शुरू करने का अनुरोध किया है. किसान पिछले साल नवंबर से दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन (Farmers Protest) कर रहे हैं. दोनों पक्षों के बीच बातचीत 26 जनवरी को दिल्ली में हुई हिंसा के बाद से बंद चल रही है.किसानों और सरकार के बीच कई दौर की वार्ता हो चुकी है लेकिन वे तीन केंद्रीय कानूनों पर गतिरोध को तोड़ने में विफल रही है. संयुक्त किसान मोर्चामें किसानों के 40 संगठन शामिल हैं.


दिल्ली में 18 से 44 साल के लोगों का वैक्सीनेशन बंद होने के कगार पर, जानिए वजह?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)