कोरोना के बढ़ते केसों के बीच दिल्ली में सार्वजनिक स्थानों पर होली मनाने पर रोक, दिल्ली सरकार ने जारी क‍िया आदेश

इस आदेश के तहत, त्योहारों के दौरान दिल्ली में किसी भी सार्वजनिक स्थान, पब्लिक ग्राउंड, पब्लिक पार्क मार्केट या धार्मिक स्थान में त्योहारों के दौरान लोग एकत्रित नहीं हो सकेंगे,

कोरोना के बढ़ते केसों के बीच दिल्ली में सार्वजनिक स्थानों पर होली मनाने पर रोक, दिल्ली सरकार ने जारी क‍िया आदेश

प्रतीकात्‍मक फोटो

नई दिल्ली:

Delhi Corona cases update: दिल्‍ली में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच देश की राजधानी में सार्वजनिक स्थानों पर होली, शब-ए-बारात और नवरात्रि के मनाने पर रोक लगा दी है. दिल्ली सरकार ने इस बारे में औपचारिक आदेश जारी किए है.  दिल्ली सरकार के इस आदेश के तहत, त्योहारों के दौरान दिल्ली में किसी भी सार्वजनिक स्थान, पब्लिक ग्राउंड, पब्लिक पार्क मार्केट या धार्मिक स्थान में त्योहारों के दौरान सार्वजनिक उत्सव, लोगों के इकट्ठा होने और जलसा मनाने पर पाबंदी रहेगी. सभी जिला मजिस्ट्रेट और जिला के डीसीपी को आदेश को लागू करवाने के निर्देश दिए गए. कोरोना की रोकथाम के तहत यह फैसला लिया गया है.

भारत में यूके, ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका वायरस वेरिएंट के 795 केस

गौरतलब है कि एक समय दिल्‍ली में रोजाना के कोरोना के मामले 100 या इससे कम तक पहुंच गए थे लेकिन अब यहां रोजाना 800 या इससे अधिक केस सामने आ रहे हैं. दिल्‍ली के साथ देश में भी कोरोना के मामलों की संख्‍या तेजी से बढ़ी है. देश के कुल कोरोना केसों की बात करें तो भारत में एक दिन में कोविड-19 के 40,715 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 1,16,86,796 हो गई. उपचाराधीन मरीजों की संख्या में भी लगातार 13वें दिन बढ़ोतरी दर्ज की गई और वह 3,45,377 हो गई है, जो कुल मामलों का 2.96 प्रतिशत है.


45 Plus के लिए कोरोना टीकाकरण: कैसे करें रजिस्‍ट्रेशन और वे बातें जो आपको जानना जरूरी है..

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार की सुबह आठ बजे जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, देश में 199 और मरीजों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,60,166 हो गई.कोविड-19 से मृत्यु दर देश में 1.37 प्रतिशत है. आंकड़ों के अनुसार, देश में कुल 1,11,81,253 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं. हालांकि मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर और अधिक गिरावट के साथ 95.67 प्रतिशत हो गई है. भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार, देश में 22 मार्च तक 23,54,13,233 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई है.