Delhi Covid-19 : कोविड अस्पतालों में बेहतर मैनेजमेंट के लिए नई रणनीति, नोडल अफसर संभालेंगे जिम्मा

दिल्ली में कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे अस्पतालों में मैनेजमेंट को देखने के लिए दिल्ली सरकार ने सभी सरकारी और बड़े प्राइवेट अस्पतालों के लिए हर अस्पताल पर एक नोडल ऑफिसर नियुक्त किया है.

Delhi Covid-19 : कोविड अस्पतालों में बेहतर मैनेजमेंट के लिए नई रणनीति, नोडल अफसर संभालेंगे जिम्मा

Delhi Covid : दिल्ली में हर कोविड अस्पतालों में नोडल अफसरों की नियुक्ति की गई. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

दिल्ली सरकार ने कोरोना के इलाज में लगे सभी सरकारी और बड़े प्राइवेट अस्पतालों के लिए हर अस्पताल पर एक नोडल ऑफिसर नियुक्त किया है. दिल्ली सरकार के 11 अस्पतालों के लिए आईएएस अफसरों को नोडल ऑफिसर नियुक्त किया गया, जबकि 15 बड़े प्राइवेट अस्पतालों के लिए DANICS अधिकारियों को नोडल ऑफिसर नियुक्त किया गया.

इसके अलावा प्रोबेशन पीरियड में चल रहे और ट्रेनिंग ले रहे DANICS अधिकारियों को भी दिल्ली सरकार के अस्पतालों के साथ अटैच कर दिया गया है, जो IAS अफसर की मदद करेंगे. दिल्ली सरकार की तरफ से जारी किए गए आदेश में IAS अफसरों के लिए कहा गया है कि ये अपने अपने सरकारी अस्पताल में ही बैठेंगे और अपने स्टाफ का इस्तेमाल करेंगे.

 इन अधिकारियों का काम होगा कि वह अस्पताल के अंदर बेहतर प्रबंधन सुनिश्चित करें, देखें कि टेलीफोन लाइन/कॉल सेंटर बिना किसी रुकावट के काम करते रहें और जनता की शिकायतों के समाधान के लिए एक बेहतर और प्रभावी सिस्टम सुनिश्चित करें, जबकि प्राइवेट अस्पतालों में नियुक्त किए गए DANICS अधिकारियों से कहा गया है कि हॉस्पिटल का प्रबंधन देखें, देखें कि सरकार की तरफ से दिए गए निर्देश का सही से पालन हो, और जनता की शिकायतों के समाधान के लिए एक बेहतर और प्रभावी सिस्टम सुनिश्चित करें.

वीकेंड कर्फ्यू ने थामी दिल्ली की रफ्तार, नाइट कर्फ्यू वाले ई-पास इस बंदी में भी लागू

सबसे अहम बात यह है कि सरकार की तरफ से जारी आदेश में कहा गया है की इन नोडल अधिकारियों के नाम और फोन नंबर अस्पताल में अहम जगह पर डिस्प्ले किए जाएं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि दिल्ली इस वक्त देश में कोविड से सबसे ज्यादा प्रभावित है. यहां शुक्रवार की शाम तक उसके पिछले 24 घंटों में 19,486 नए मामले सामने आए थे, जो एक दिन में सामने आने वाले मामलों में अब तक सबसे ज्यादा हैं. वहीं इस दौरान 141 मरीजों की मौत हुई थी. दिल्ली में पहली बार एक दिन में इतने COVID-19 मरीजों की मौत हुई है. यहां एक्टिव मामले 61,000 के पार हो चुके हैं, जो अब तक सबसे ज्यादा हैं.