कोविड वैक्सीनेशन : 18 से 44 साल वाले अब करा सकेंगे ऑन साइट रजिस्ट्रेशन

अब 18 साल से 44 साल के  लोगों के लिए ऑन साइट रजिस्ट्रेशन की सुविधा उपलब्ध रहेगी. यानी कि इस वर्ग के लोगों के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की सुविधा तो रहेगी ही, अब लोग ऑफलाइन भी वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे.

कोविड वैक्सीनेशन : 18 से 44 साल वाले अब करा सकेंगे ऑन साइट रजिस्ट्रेशन

Covid Vaccination : 18-44 साल वालों के लिए वैक्सीन का ऑन साइट रजिस्ट्रेशन उपलब्ध.

नई दिल्ली:

कोविड-19 के खिलाफ चल रहे वैक्सीनेशन ड्राइव में सोमवार को एक नई सुविधा दी गई है. अब 18 साल से 44 साल के  लोगों के लिए ऑन साइट रजिस्ट्रेशन की सुविधा उपलब्ध रहेगी. इस आयु वर्ग के लोगों के वैक्सीनेशन के लिए अब ऑनसाइट रजिस्ट्रेशन भी होगा. यानी कि इस वर्ग के लोगों के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की सुविधा तो रहेगी ही, अब लोग ऑफलाइन भी वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे.

यह सुविधा इसलिए शुरू की जा रही है, जिससे कि टीके की बरबादी रोकी जा सके. यानी कि अगर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के जरिए  उतने लाभार्थी नहीं पहुंच रहे और वैक्सीन की डोज़ उपलब्ध हैं, तो सेंटर पर भी रजिस्टर्ड लोगों को वैक्सीन लगाई जाएंगी.

इस नई व्यवस्था का जिक्र कोविन प्लेटफॉर्म पर किया जा रहा है. फिलहाल नई सुविधा सरकारी वैक्सीनशन सेंटर्स पर ही होगी.

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से एक आधिकारिक बयान जारी कर बताया है कि राज्य और स्वास्थ्य अधिकारियों से चर्चा के बाद अब इस आयुवर्ग के लोगों के लिए ऑन साइट रजिस्ट्रेशन सुविधा शुरू की जा रही है.

कार्यस्थलों पर अब कर्मचारियों के परिजनों का भी होगा टीकाकरण, केंद्र ने राज्यों को लिखा पत्र

इसमें दो मुख्य बातें कही गई हैं-


1. ऑनलाइन बुकिंग के सीन में, दिन के अंत तक कुछ डोज़ बची रह सकती हैं, जैसे कि कोई लाभार्थी वैक्सीनेशन वाले दिन नहीं आया. तो ऐसे में ऑन साइट रजिस्ट्रेशन की सुविधा ले सकने वालों को वैक्सीन लगाई जा सकेगी. इससे वैक्सीन की बर्बादी नहीं होगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


2. कोविन पर भले ही एक मोबाइल नंबर पर चार लाभार्थियों का रजिस्ट्रेशन हो रहा है. या फिर आरोग्य सेतु या उमंग जैसे ऐप पर रजिस्ट्रेशन हो रहा है. लेकिन बहुत से ऐसे लोग हैं, जिनको ऑन साइट रजिस्ट्रेशन की जरूरत है या उनके पास इंटरनेट या स्मार्टफोन तक पहुंच नहीं है, ऐसे में उनको वैक्सीनेशन में दिक्कत होगी.