महाराष्‍ट्र में 24 घंटों में कोरोना के 63 हजार से अधिक नए केस, 985 लोगों की हुई मौत

महाराष्‍ट्र के सबसे बड़े शहर मुंबई में जरूर केसों की संख्‍या पिछले कुछ दिनों से कम हो रही है. मुंबई में बुधवार को 24 घंटों में 4,966 नए केस आए जबकि 78 लोगों की जान कोरोना संक्रमण से गई.

महाराष्‍ट्र में 24 घंटों में कोरोना के 63 हजार से अधिक नए केस, 985 लोगों की हुई मौत

कोरोना के सबसे ज्‍यादा केस अब तक महाराष्‍ट्र से ही सामने आए हैं (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • महानगर मुंबई में बुधवार को 4,966 नए केस आए
  • पुणे में एक्टिव केसों की संख्‍या एक लाख के पार
  • मुंबई, ठाणे और नागपुर में भी एक्टिव केसों की संख्‍या अच्‍छी खासी
मुंंबई:

कोरोना की दूसरी लहर के बीच महाराष्‍ट्र में पिछले 24 घंओं में कोरोना के 63,309 केस सामने आए जबक इस दौरान 985 लोगों को कोरोना के कारण जान गंवानी पड़ी. महाराष्‍ट्र के सबसे बड़े शहर मुंबई में जरूर केसों की संख्‍या पिछले कुछ दिनों से कम हो रही है. मुंबई में बुधवार को 24 घंटों में 4,966 नए केस आए जबकि 78 लोगों की जान कोरोना संक्रमण से गई. मुंबई में कोरोना के अब तक 6,40,507 केस आ चुके हैं जिसमें से 5,60,401 लोग रिकवर हो चुके हैं.

शर्मनाक! अंतिम संस्कार के लिए साइकिल में पत्नी का शव लेकर भटकता रहा बुजुर्ग, कोरोना से हुई थी मौत

केरल में कोरोना बेकाबू, पिछले 24 घंटे में आये 35 हजार से अधिक मामले, 41 की मौत


मुंबई में कोराना के एक्टिव केसों की संख्‍या 67984 है जबकि ठाणे में कोरोना के 74123 एक्टिव मामले हैं. पुणे शहर में तो कोरोना के एक्टिव केसों की संख्‍या एक लाख से ज्‍यादा है. पुणे में कोरोना के एक लाख 397 केस हैं. नासिक शहर में कोरोना के 52610 और नागपुर में 75, 345 एक्टिव मामले हैं.इस बीच, स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञों ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि महाराष्ट्र में टीकाकरण की धीमी गति से राज्य में संक्रमण की तीसरी लहर आ सकती है. यह चेतावनी ऐसे समय जारी की गई है जब महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने कहा कि वह पर्याप्त संख्या में टीका उपलब्ध नहीं होने के कारण 18 से 44 वर्ष के लोगों का टीकाकरण एक मई से शुरू नहीं करने जा रही है. स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे महाराष्ट्र के लिए पर्याप्त संख्या में टीके की उपलब्धता नहीं होने पर पहले ही चिंता जता चुके हैं. महाराष्ट्र महामारी से बुरी तरह प्रभावित राज्य है और वहां वर्तमान लाभार्थियों (45 वर्ष से ऊपर के लोग) के लिए टीके की कमी की खबर है जिससे वहां टीकाकरण की गति धीमी है. कोविड-19 पर सही तरीके से तभी लगाम कसी जा सकता है जब टीकाकरण के योग्य दो-तिहाई आबादी को टीका लगाया जाए.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उधर, भारत में भी लगातार सातवें दिन तीन लाख से अधिक केस दर्ज किए गए. केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा बुधवार सुबह जारी किए गए ताज़ातरीन आंकड़ों के मुताबिक, भारत में पिछले 24 घंटों के दौरान 3,60,960 नए COVID-19 केस दर्ज किए गए, जो अब तक एक दिन में दर्ज हुए केसों का सबसे बड़ा आंकड़ा है. इन्हें मिलाकर देश में कुल संक्रमितों की संख्या एक करोड़ 80 लाख के बेहद करीब पहुंच गई है. पिछले 24 घंटे में सबसे ज़्यादा मौत भी दर्ज की गईं, और कुल 3,293 लोग कोरोना की वजह से जान गंवा बैठे. इसके साथ ही देश में इस रोग से अब तक जान गंवाने वालों की कुल संख्या 2,01,187 हो गई है. (भाषा से भी इनपुट)