महाराष्‍ट्र: कोरोना के केस बढ़ने के बाद 'अलर्ट मोड' में उद्धव सरकार, कई जिलों में सख्‍त किए गए नियम

अमरावती में सोमवार रात से 28 फरवरी तक एक हफ्ते के लॉकडाउन का ऐलान किया गया है. अकोला जिले में शहर, मूर्तिजापुर और अकोट में 23 फरवरी से 1 मार्च तक लॉकडाउन होगाण्‍

महाराष्‍ट्र: कोरोना के केस बढ़ने के बाद 'अलर्ट मोड' में उद्धव सरकार, कई जिलों में सख्‍त किए गए नियम

महाराष्‍ट्र में कोरोना के नए मामलों की संख्‍या में इजाफा हो रहा है (प्रतीकात्‍मक फोटो)

मुंंबई:

Maharashtra Covid-19 Cases Updates: महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों (New corona cases In Maharashtra) के बीच रविवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की ओर से कोरोना के कायदों को सख्ती से पालन करने के अपील के बाद अब प्रशासन की ओर से कड़ी कार्रवाई शुरू हो गई है. राज्य के अलग-अलग जिलों में प्रशासन ने प्रतिबंध भी लाए हैं ताकि मामलों पर काबू पाया जा सके. मुंबई, पालघर और जलगांव में शादी के कार्यक्रम में कोरोना के नियमों का पालन नहीं किये जाने के बाद प्रशासन की ओर से कार्रवाई की गई. इसके तहत कहीं मैरिज हॉल को सील किया गया तो कहीं हॉल के मालिक के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई. राज्य में कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए अलग-अलग इलाकों में अलग-अलग पाबंदियाँ लगाई गई हैं.

भारत में कुल COVID-19 केस 1 करोड़ 10 लाख पार, पिछले 24 घंटे में 14,199 केस दर्ज

अमरावती में सोमवार रात से 28 फरवरी तक एक हफ्ते के लॉकडाउन का ऐलान किया गया है. अकोला जिले में शहर, मूर्तिजापुर और अकोट में 23 फरवरी से 1 मार्च तक लॉकडाउन होगा, जिले के दूसरे इलाकों में दुकान 9 से 5 खुली रह सकती हैं. होटल में केवल पार्सल सुविधा रहेगी. स्कूल, कॉलेज, सिनेमा यहां बंद रहेंगे. पुणे में स्कूल कॉलेज 28 फरवरी तक बंद करने का फैसला किा गया है. होटल-रेस्टोरेंट रात 11 बजे तक खुले रह सकते हैं. रात 11 से सुबह 6 बजे तक बेवजह घूमने पर कार्रवाई की जाएगी. नासिक में सोमवार रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक नाईट कर्फ्यू का ऐलान किया गया है. मास्क नहीं पहनने पर 1000 रुपये का जुर्माना होगा. नागपुर में 7 मार्च तक स्कूल कॉलेज बंद किए गए है. मुख्य बाजारों को शनिवार-रविवार को बंद किया जाएगा. सामाजिक, राजनैतिक, धार्मिक कार्यक्रमों पर 7 मार्च तक पाबंदी रहेगी.


कोविड टीकाकरण में प्राइवेट सेक्टर की जल्द होगी बड़ी भूमिका : नीति आयोग के सदस्य

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राज्‍य के कैबिनेट मंत्री नितिन राउत ने कहा, 'कल मुख्यमंत्री ने कहा है कि हम सभी बढ़ते मामलों के लिए ज़िम्मेदार हैं. आजकल लोग बिना मास्क घूम रहे हैं, भीड़ कर रहे हैं, जिसे देखते हुए हमने नागपुर के लिए अब कड़े निर्णय लिए हैं.' राज्य में जहां कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी हुई है तो वहीं स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि अधिकांश मामले असिमटोमैटिक (जिसमें लक्षण नजर नहीं आते) हैं. स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के अनुसार, राज्य में सबसे ज़्यादा मामले विदर्भ के अमरावती जिले में मिल रहे हैं. एक अन्‍य कैबिनेट मंत्री असलम शेख ने कहा कि नियमों का पालन नहीं होने के वजह से मामलों में बढ़ोतरी हो रही है. फिलहाल हालात काबू में हैं, राज्य सरकार ने इससे पहले 3 लाख से ज़्यादा एक्टिव मामलों को भी संभाला है. जहां से मामले बढ़ रहे हैं, वहाँ से सैंपल जाँच के लिए NIV भेजे है, जिनकी रिपोर्ट अगले 5 से 8 दिनों में आएगी.