कटिहार प्रशासन के फेल हुए सभी दावे, कोरोना से मौत के बाद शव को बेदर्दी से अंतिम संस्कार के लिए यूं ले जाते दिखे लोग

कोरोना से किसी के मौत के बाद जिला प्रशासन की तरफ से कटिहार-पुर्णिया सड़क के भसना पुल के नीचे उसके अंतिम संस्कार की व्यवस्था की गई है.

कटिहार प्रशासन के फेल हुए सभी दावे, कोरोना से मौत के बाद शव को बेदर्दी से अंतिम संस्कार के लिए यूं ले जाते दिखे लोग

कटिहार प्रशासन के फेल हुए सभी दावे.

कटिहार:

कोरोनाकाल के दौरान सिस्टम पर यूं तो कई सवाल उठ रहे हैं. वहीं, इसी बीच कटिहार से एक दुखद है और दिल दुखाने वाला वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. 7 मिनट से भी अधिक अवधि के इस वीडियो में कोरोना से एक व्यक्ति की मौत के बाद उसके पिता और कुछ लोग बॉडी को अंतिम संस्कार के लिए जिस तरह लेकर जा रहे हैं और व्यवस्था का क्या इंतजाम करते दिखाई दे रहे हैं. इसको लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं.


दरअसल, कोरोना से किसी के मौत के बाद जिला प्रशासन की तरफ से कटिहार-पुर्णिया सड़क के भसना पुल के नीचे उसके अंतिम संस्कार की व्यवस्था की गई है. लेकिन यह तस्वीर बताने के लिए काफी है कि एंबुलेंस से उतारकर भसना पुल के नीचे तक ले जाने के लिए प्रशासनिक जो व्यवस्था का दावा किया गया है वह किस तरह से फेल हो चुका है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


स्वास्थ्य विभाग के तीन कर्मी के पास इसके लिए कोई स्ट्रेचर की व्यवस्था नहीं है. तीनों मिलकर किसी तरह लगभग घसीटते हुए बॉडी को अंतिम संस्कार के लिए ले जा रहे हैं. बड़ी बात यह है कि इसमें दो कर्मी तो पीपीई किट पहने हुए है, लेकिन एक कर्मी बिना पीपीई किट के दिखाई दे रहा है. अब देखना यह होगा कि कोरोना से मौत के बाद प्रशासनिक स्तर पर अंतिम संस्कार के दावे के बीच कटिहार के इस दिल दहलाने वाली तस्वीर को कटिहार जिला प्रशासन कितनी गंभीरता से लेते हैं.