भारत में कोरोना के मामले 8.5 लाख के करीब पहुंचे, कई शहरों में लग सकता है लॉकडाउन

देश में जहां कोरोना वायरस (Coronavirus in India) संक्रमण के मामले 8.5 लाख के करीब पहुंच गए हैं वहीं आने वाले दिनों में बेंगलुरु और पुणे समेत कई शहरों के अधिकारी अलग-अलग अवधियों के लिए लॉकडाउन पुन: लागू करने की तैयारी कर रहे हैं.

नई दिल्ली:

देश में जहां कोरोना वायरस (Coronavirus in India) संक्रमण के मामले 8.5 लाख के करीब पहुंच गए हैं वहीं आने वाले दिनों में बेंगलुरु और पुणे समेत कई शहरों के अधिकारी अलग-अलग अवधियों के लिए लॉकडाउन पुन: लागू करने की तैयारी कर रहे हैं. उधर राजधानी दिल्ली में स्थिति में कुछ सुधार दिखाई दिया है. उत्तर प्रदेश सरकार ने सप्ताहांतों में शनिवार, रविवार को पूरे राज्य में कड़ी पाबंदियां लागू करने का फैसला किया है.

इससे पहले कर्नाटक और तमिलनाडु ने रविवार का लॉकडाउन लगा रखा है. असम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय और बिहार जैसे राज्यों ने अलग-अलग अवधियों में क्षेत्रवार लॉकडाउन की घोषणा की है. कर्नाटक सरकार ने बेंगलुरु में 14 जुलाई से सात दिन के लिए पूरी तरह लॉकडाउन का ऐलान किया है. तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने मदुरै और आसपास के क्षेत्रों में पाबंदियां 14 जुलाई तक बढ़ा दी हैं.

महाराष्ट्र सरकार ने पहले ही पुणे और पिंपरी-चिंचवाड़ में 13 से 23 जुलाई तक व्यापक लॉकडाउन की घोषणा की थी. राज्य सरकार ने मुंबई के आसपास के क्षेत्रों में भी इसी तरह बंद की घोषणा की थी. कश्मीर में भी अधिकारियों ने रविवार को लॉकडाउन के एक और चरण के सख्ती से क्रियान्वयन की शुरूआत की तथा ऐतिहासिक लाल चौक को पूरी तरह बंद कर दिया. श्रीनगर के 67 अन्य क्षेत्रों को भी बंद कर दिया गया है जिन्हें पिछले एक सप्ताह में कोविड-19 के मामले अचानक से बढ़ने के बाद कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है.

हालांकि दिल्ली में खबरें कुछ सकारात्मक हैं जहां रविवार को कोविड-19 के मामलों की संख्या लगातार दूसरे दिन 2,000 से कम रही. वहीं संक्रमितों के ठीक होने की दर करीब 80 प्रतिशत होने के साथ अधिकारियों ने यहां स्टेडियमों में अस्थायी कोरोना वायरस देखभाल केंद्र बनाने की योजना अभी स्थगित कर दी है. राष्ट्रीय राजधानी में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 1,573 नये मामले सामने आए, जिससे मामलों की संख्या बढ़कर 1,12,494 हो गयी, जबकि इस बीमारी से एक दिन में 37 लोगों की मृत्यु के बाद मरने वालों की संख्या 3,371 पहुंच गई. दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के एक बुलेटिन में यह जानकारी दी गई है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पल्स ऑक्सीमीटर को ‘सुरक्षा कवच' करार देते हुए कहा कि इसने दिल्ली में घरों में पृथक-वास में रह रहे कोविड-19 के मरीजों की मौत की संख्या कम करने में मदद पहुंचायी है.


महाराष्ट्र में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 7,827 नए मामले सामने आए, जिसके साथ ही राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 2,54,427 तक पहुंच गई. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी. विभाग ने एक बयान में कहा कि इस घातक वायरस के कारण 173 और मरीजों की मौत के साथ ही मृतकों का आंकड़ा 10,289 तक जा पहुंचा. मुम्बई में रविवार को कोविड-19 के 1,263 नये मरीज सामने आने के साथ ही महानगर में इस महामारी के मामले बढ़कर 92,720 हो गये. बृहन्मुम्बई महानगरपालिका (बीएमसी) ने यह जानकारी दी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


देश में रविवार को कोविड-19 के रिकॉर्ड 28,637 मामले सामने आने के बाद संक्रमण के कुल मामले 8,49,553 हो गए हैं. वहीं, एक दिन में बीमारी से 551 लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या 22,674 हो गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट पर सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या 5,34,620 हो गई है जबकि 2,92,258 लोगों का अब भी इलाज चल रहा है.