नवजोत सिद्धू का ट्वीट-अच्‍छा इंसान मतलबी नहीं होता बस उन लोगों से दूर हो जाता है...

पंजाब में अगले वर्ष यानी वर्ष 2022 में विधानसभा चुनाव होने हैं. सियासी हलकों में सिद्धू और सीएम कैप्‍टन अमरिंदर सिंह के बीच गंभीर मतभेद होने की चर्चा आम रही है.

नवजोत सिद्धू का ट्वीट-अच्‍छा इंसान मतलबी नहीं होता बस उन लोगों से दूर हो जाता है...

नवजोत सिद्धू के ट्वीट के लोग मायने तलाश रहे हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  • ट्वीट्स और 'टू लाइनर' के जरिये चर्चा में रहते हैं सिद्धू
  • ट्वीट में अच्‍छे इंसान को लेकर अपनी बात रखी है
  • पंजाब में अगले साल होने हैं विधानसभा चुनाव
नई दिल्ली:

पूर्व क्रिेकेटर और पंजाब से कांग्रेस के दिग्‍गज नेता नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) अपने ट्वीट्स और 'टू लाइनर' के जरिये लोगों की प्रशंसा बटोरते रहे हैं. ऐसे समय जब पंजाब विधानसभा चुनाव (Punjab Assembly polls 2022) के पहले सीएम अमरिंदर सिंह के साथ उनकी लंच पर होने वाली (संभावित) मुलाकात और पंजाब कैबिनेट में सिद्धू को अहम पद मिलने की चर्चा मीडिया में सुर्खियां बटोर रही है, नवजोत ने एक धांसू ट्वीट किया. इस ट्वीट में उन्‍होंने, अनूठे अंदाज में 'अच्‍छे इंसान' की विशेषताएं बताई हैं. उन्‍होंने अपने ट्वीट में लिखा है, 'अच्छा इंसान मतलबी नहीं होता, बस दूर हो जाता है उन लोगों से जिन्हें उसकी कदर नहीं होती.' अब नवजोत सिद्धू ने तो यह ट्वीट कर‍ दिया लेकिन लोग इसमें मायने तलाश रहे हैं. इस बारे में अटकलों का दौर शुरू हो गया है कि नवजोत ने यह ट्वीट किसकी ओर इशारा करके लिखा है.

कृषि कानूनों के खिलाफ शायराना अंदाज में 'बैटिंग' कर रहे नवजोत सिद्धू

गौरतलब है कि पंजाब में अगले वर्ष यानी वर्ष 2022 में विधानसभा चुनाव होने हैं. सियासी हलकों में सिद्धू और सीएम कैप्‍टन अमरिंदर सिंह के बीच गंभीर मतभेद होने की चर्चा आम रही है, ऐसे में कांग्रेस पार्टी अपने इन दोनों नेताओं के बीच सुलह की लगातार कोशिशें कर रही है. सूत्र बताते हैं कि पार्टी नहीं चाहती कि इन दोनों प्रमुख नेताओं के अलग-अलग राह पर चलने के कारण उसे चुनाव में कोई नुकसान उठाना पड़े. जानकारी के अनुसार, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह जल्‍द ही लंच  पर पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू से मुलाकात कर सकते हैं. सूत्रों ने यह जानकारी दी. कयास लगाए जा रहे हैं कि पूर्व क्रिकेटर तथा नेता सिद्धू को राज्य में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले महत्वपूर्ण भूमिका दी जा सकती है.


सिद्धू ने किया ट्वीट- 'गुरूर में इंसान को इंसान नहीं दिखता'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि, इससे पहले पिछले साल नवंबर में भी दोनों के बीच ऐसी ही मुलाकात हुई थी, जिसे दोनों पक्षों के बीच मनमुटाव दूर करने की दिशा में पहले कदम के तौर पर देखा गया था. सीएम अमरिंदर सिंह ने तब कहा था कि वह और सिद्धू ऐसी मुलाकातें करते रहेंगे. सिद्धू ने साल 2019 में स्थानीय निकाय मंत्रालय वापस लिये जाने के बाद मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था, इसके बाद से कांग्रेस का केन्द्रीय नेतृत्व सिद्धू को मनाने की कोशिश कर रहा है. समझा जाता है कि कांग्रेस नेता तथा पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश रावत सिद्धू को महत्वपूर्ण पद दिये जाने का समर्थन कर रहे हैं. (भाषा से भी इनपुट)