अंकित गुर्जर की तिहाड़ जेल में हुई हत्या की जांच सीबीआई करेगी, गैंगस्टर के परिजनों की थी मांग

अंकित गुर्जर को हाल ही में दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था, उस पर यूपी पुलिस की तरफ से 1 लाख 25 हज़ार का इनाम था. अंकित पर 8 हत्याओ का आरोप था.

अंकित गुर्जर की तिहाड़ जेल में हुई हत्या की जांच सीबीआई करेगी, गैंगस्टर के परिजनों की थी मांग

Ankit Gujjar murder : दिल्ली की अतिसुरक्षित तिहाड़ जेल में हुई थी गैंगस्टर की हत्या

नई दिल्ली:

तिहाड़ जेल (Tihar Jail) के कैदी और गैंगस्टर अंकित गुर्जर की हत्या (Ankit Gujjar murder case) के मामले की जांच अब सीबीआई (CBI) करेगी. दिल्ली हाई कोर्ट ने बुधवार को ये आदेश दिया.मृतक कैदी अंकित गुजर के परिजन लगातार कोर्ट से मामले की सीबीआई जांच की मांग कर रहे थे. हाई कोर्ट दिल्ली पुलिस के जांच से असंतुष्ट थी औऱ यह आदेश पारित किया गया. मामले की अगली सुनवाई 28 सितंबर को होगी. अंकित गुर्जर की तिहाड़ जेल में हत्या के मामले में जेल नंबर 3 के सुपरिटेंडेंट नरेंद्र कुमार मीणा और अन्य अज्ञात जेलकर्मियों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया गया था.

गुर्जर की मां की शिकायत पर हरि नगर थाने में मामला दर्ज किया गया था. अंकित गुर्जर की 30 अगस्त को कर हत्या करने का आरोप है. अंकित के घर वालों के मुताबिक, मीणा एक लाख रुपये मांग रहा था, जिसमें 50 हज़ार रुपये दे दिए गए थे. बाकी की रकम नहीं देने पर उसे मार डाला गया. जेल कर्मियों का कहना है कि अंकित गुर्जर के पास मोबाइल फोन मिला था. इसके बाद विवाद हुआ और अंकित ने उपाधीक्षक पर हमला कर दिया. अंकित गुर्जर पर जेल स्टॉफ ने किसी तरह काबू किया. इस हाथापाई में अंकित गुर्जर घायल हुआ और बाद में उसकी मौत हो गई.


इस केस में डीजी जेल ने डिप्टी सुपरिटेंडेंट समेत 5 जेल कर्मियों को जेल नंबर 3 से हटा दिया था. अंकित इसी जेल बैरक में ही बंद था. डीजी के अनुसार, परिवार ने इन जेल स्टॉफ पर  गंभीर आरोप लगाया था. ये सभी लोग ड्यूटी पर मौजूद भी थे और इनके खिलाफ जांच का भी आदेश है, इसलिए हटाया है. हालांकि परिवार लगातार यही कहता रहा है कि इन जेल कर्मियों के रहते सच सामने आना मुमकिन नहीं है और दिल्ली पुलिस से निष्पक्ष जांच की उसे उम्मीद नहीं है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


लिहाजा सीबीआई जांच कराई जाए. अतिसुरक्षित तिहाड़ जेल में गैंगस्टर की हत्या ने तमाम सवाल खड़े किए थे. अंकित गुर्जर को हाल ही में दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था, उस पर यूपी पुलिस की तरफ से 1 लाख 25 हज़ार का इनाम था. अंकित पर 8 हत्याओ का आरोप था.जानकारी के अनुसार, सुबह करीब 9:15 बजे अंकित गुर्जर की मौत के बारे में सूचना मिली थी. पुलिस टीम मौके पर पहुंची तो 29 साल के अंकित को तिहाड़ के जेल नंबर की डिस्‍पेंसरी के बेड पर मृत पाया. अंकित गुर्जर के अलावा दो अन्‍य कैदी गुरप्रीत और गुरजीत घायल हुए थे. उन्हें भी अस्पताल में भर्ती कराया गया था.