पूर्व सांसद अतीक अहमद के बेटे उमर की मुश्किलें बढ़ीं, CBI ने जारी किया लुकआउट नोटिस 

मामला दिसंबर 2018 का है. आरोप है कि उमर ने रियल एस्टेट कारोबारी मोहित जायसवाल को लखनऊ के गोमतीनगर से किडनैप करवाया था और उसे देवरिया जेल ले जाया गया था, जहां उसकी पिटाई भी की गई थी.

पूर्व सांसद अतीक अहमद के बेटे उमर की मुश्किलें बढ़ीं, CBI ने जारी किया लुकआउट नोटिस 

इस मामले की जांच सीबीआई कर रही है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

लंबे समय से जेल में बंद बाहुबली और पूर्व सांसद अतीक अहमद (Ex MP Atiq Ahmed) के बेटे मोहम्मद उमर की मुश्किलें बढ़ी गई हैं. केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने मोहम्मद उमर के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी किया है.  सीबीआई ने उमर पर दो लाख का इनाम भी घोषित कर रखा है.

कुछ दिन पहले ही सीबीआई की विशेष अदालत ने उमर के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था. वह एक व्यवसायी को अगवा करने और उसकी पिटाई करने के मामले में आरोपी है. इस मामले की जांच सीबीआई कर रही है.

मामला दिसंबर 2018 का है. आरोप है कि उमर ने रियल एस्टेट कारोबारी मोहित जायसवाल को लखनऊ के गोमतीनगर से किडनैप करवाया था और उसे देवरिया जेल ले जाया गया था, जहां उसकी पिटाई भी की गई थी. उस वक्त देवरिया जेल में ही अतीक अहमद बंद था. आरोप है कि अतीक अहमद ने कारोबारी मोहित से सादे स्टांप पेपर पर दस्तखत करने को कहा था. इससे इनकार करने पर उसकी पिटाई की गई थी.

मनी लॉन्ड्रिंग केस : ED ने की मुख्‍तार अंसारी और अतीक अहमद के बैंक खातों-कंपनियों की पहचान - सूत्र


बाद में SC के निर्देश पर अतीक अहमद को साबरमती जेल में स्थानांतरित कर दिया गया और अप्रैल 2019 में मामला CBI को स्थानांतरित कर दिया गया. मामले में ईडी ने भी दस्तक दी. अब उनपर मनी लॉन्ड्रिंग का भी केस चल रहा है. ईडी ने मामले में साबरमती जेल में अतीक अहमद से भी पूछताछ की थी. ईडी के बार-बार सम्मन के बावजूद मोहम्मद उमर जांच में शामिल हो सका है.

वीडियो: कोरोना के नए वैरिएंट का खतरा बढ़ा, पीएम मोदी ने की बैठक

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com